Breaking News:

4 बच्चों का बाप था दरोगा ज़मील अख्तर,, खुद को कुंवारा बता की दूसरी शादी.. अब बीबी को देता है अंतहीन प्रताड़ना

जमील अख्तर एक दरोगा था जिसके ऊपर जिम्मेदारी थी समाज के पीड़ितों को, वंचितों को न्याय दिलाने की. जब जमील अख्तर ने खाकी पहनी तब उसने ये शपथ भी ली थी कि वह पूरी ईमानदारी तथा नैतिकता के साथ काम करेगा तथा खाकी के सम्मान को बढ़ाएगा लेकिन उसकी ये शपथ सिर्फ एक ढोंग था. जिस जमील अख्तर पर समाज को न्याय दिलाने की जिम्मेदारी थी वो जमील अख्तर खाकी की धमक के नाम पर खुद कानून की धज्जियां उड़ा रहा था.

मामला बिहार के पूर्णिया का है जहाँ एक दारोगा की हैवानियत सामने आई है.  दरोगा की पत्नी ने ही जलालगढ़ के थाना प्रभारी जमील अख्तर पर धोखा देकर शादी करने और अब बेरहमी से मारपीट कर घर से बेदखल करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है. पीड़िता एक साल के बच्ची को लेकर दर-दर भटक रही है और इंसाफ की गुहार लगा रही है. एक साल की मासूम बच्ची को गोद में लिए अपनी गुहार लेकर पूर्णिया के एसपी कार्यालय पहुंची पीड़िता फूलदाय खातून ने दारोगा जमील अख्तर पर कई गंभीर आरोप लगाये हैं.

एसपी को दी शिकायत में पीड़िता पीड़िता फूलदाय ने बताया है कि उसके शौहर जलालगढ़ थाना प्रभारी जमील अख्तर ने उसे बेरहमी से मारा और उसे घर से निकाल दिया. पीड़िता ने आरोप लगाया कि शौहर जमील अखतर ने उसकी मासूम बच्ची को भी जमीन पर पटक दिया. इसके बाद वह अपनी सर्विस रिवाल्वर से फूलदाय को गोली मारने की भी धमकी दी. थाना के अन्य कर्मियों के बीच बचाव से किसी तरह वह जान बचाकर एसपी कार्यालय पहुंची.

पीड़िता ने बताया है कि 2016 में जमील अख्तर खुद को कुंवारा बताते हुए उनसे लव मैरेज किया था. बाद में पता चला कि वह चार बच्चे का पिता है और पहले से शादीशुदा है. इसके बाद से वह उसे लगातार प्रताड़ित कर रहा है तथा  उसे घर से निकाल दिया. बता दें कि एक सप्ताह पहले इसी मामले में दरभंगा के डीआईजी छत्रनील सिंह ने थाना प्रभारी जमील अख्तर को बर्खास्त भी कर दिया है. इसके बावजूद वह जलालगढ का थाना प्रभारी बना हुआ है.

पीड़िता ने बताया कि बर्खास्तगी से खफा जमील अख्तर ने उसकी बेरहमी से पिटाई की. पिटाई के कारण उनके शरीर के कई हिस्से में जख्म हो गए हैं. फूलदाय खातून के आवेदन को पूर्णिया के एसपी विशाल शर्मा ने गंभीरता से लिया. एसपी ने तुरंत महिला थानाध्यक्ष को बुलाकर दारोगा जमील अख्तर पर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया. एसपी ने कहा कि जमील अख्तर पर उनकी पत्नी ने घरेलू हिंसा की शिकायत की है. इस मामले में महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज की जा रही है.  घटना की जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी. एसपी ने कहा कि जमील अख्तर की बर्खास्तगी की अभी तक कोई पत्र उन्हें नहीं मिला है. जैसे ही वह लेटर मिलता है तो वे आगे की कार्रावई करेंगे.

Share This Post