योगी की पहल पूरे भारत में ला रही बदलाव… बिहार सरकार ने भी अब मदरसों के लिए जारी किया ये आदेश

बिहार सरकार ने भी अब शायद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यों की सफलता को देख कर उसी तरफ कदम बढा दिए हैं और मदरसों में पूरा आमूलचूल परिवर्तन करने का फैसला कर लिया है . उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बन जाने के बाद हर क्षेत्र में हुए व्यापक बदलावों में एक बदलाव ये भी है कि मदरसों की शिक्षा पद्धति में कई अन्य चीजो का भी समावेश किया है जो बच्चो को उनके कैरियर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा ..

विदित हो कि बिहार की सरकार ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए मदरसों के लिए एक नया आदेश जारी किया है. इस आदेश के बाद अब मदरसों में कवल इस्लामिक किताबें ही नहीं पढाई जाएगी बल्कि तमाम अन्य रोजगारपारक कोर्स भी कराए जायेंगे . मदरसों में भी अब एनसीईआरटी पाठ्यक्रम से पढ़ाई होगी। इससे छात्र इंजीनियरिंग और मेडिकल की प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर पाएंगे। विज्ञान और गणित विषय में इस पाठ्यक्रम को लागू किया जाएगा।

ध्यान रखने योग्य है कि एनसीईआरटी पाठ्यक्रम की शिक्षा नियमित मदरसों में दी जाए, इसके लिए बाकायदा उसको पढ़ाने वाले शिक्षक भी अलग से रखे जायेंगे. बिहार राज्य मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष अब्दुल कयूम अंसारी की मानें तो एनसीईआरटी पाठ्यक्रम को लागू तो किया गया, लेकिन इसे पढ़ाने के लिए ट्रेंड शिक्षक नहीं हैं। मदरसों में रहने वाले शिक्षक ही अभी पढ़ाते हैं, लेकिन अगले सत्र से विज्ञान शिक्षक रहेंगे। ज्ञात हो कि बोर्ड ने 1127 मदरसों में 3384 विज्ञान शिक्षकों को नियुक्त करने जा रहा है।

Share This Post