पहले भाजपा अध्यक्ष पर किया हमला, अब भाजपा सांसद पर लाठीचार्ज.. एक प्रदेश ऐसा भी जहाँ निशाने पर हैं भाजपाई, बूथ नेता से सांसद तक

ये वो प्रदेश है जिस प्रदेश की सत्ता उस पार्टी के हाथ में है, जिस पार्टी की मुखिया खुद को लोकतंत्र तथा संविधान का सबसे बड़ा हितैषी बताती हैं, अभिव्यक्ति की आजादी का रहनुमा बताती हैं. लेकिन उस प्रदेश में विपक्षी बीजेपी के बूथ स्तर के नेताओं से लेकर सांसद तक को इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि उस प्रदेश में बीजेपी मजबूत ताकत बन रही है. हम बात कर रहे हैं ममता बनर्जी शासित पश्चिम बंगाल की, जहाँ की बैरकपुर लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह पर जानलेवा हमला किया गया है.

खबर के मुताबिक़, पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिला के बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह की कार पर एक बार फिर हमला किया. हमला इतना भयानक था कि बीजेपी सांसद का सिर फट गया. भाजपा समर्थकों ने इसका विरोध किया, तो पुलिस के साथ उनकी झड़प हो गयी. पुलिस ने भाजपा समर्थकों पर लाठी चार्ज कर दी. जानकारी के मुताबिक़, श्यामनगर इलाके में रविवार को अर्जुन सिंह की कार पर हमला करते हुए गाड़ी में जमकर तोड़फोड़ की गयी. आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ताओं ने हमला किया और उनकी कार के शीशे तोड़ दिये.

घटना के बाद ही नीलगंज रोड, आमडांगा, कांकीनाड़ा पानपुर मोड़, भाटपाड़ा मंडल एक, टीटागढ़ समेत बैरकपुर के विभिन्न इलाकों में भाजपा समर्थकों ने अर्जुन सिंह की कार पर हमले के खिलाफ जगह-जगह प्रदर्शन कर विरोध जताया तथा सांसद पर हमला करने वालों के खिलाफ कार्यवाई की मांग की. इसी दौरान विरोध प्रदर्शन कर रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं को रोकते हुए पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इस दौरान सांसद का सर फट गया.

जानकारी के मुताबिक, घटना 11 से साढ़े 11 बजे के बीच की है. गारुलिया मंडल अंतर्गत स्थित श्यामनगर में भाजपा के एक पार्टी ऑफिस पर कब्जा करने के लिए कुछ कथित तृणमूल समर्थक पहुंचे थे. इस दौरान दोनों पक्षों में मारपीट हुई. घटना की खबर पाकर अपनी कार से श्यामनगर रवाना हुए भाजपा सांसद की कार को फीडर रोड इलाके में कुछ कथित तृणमूल समर्थकों ने रोक लिया. आरोप है कि अर्जुन सिंह पर जानलेवा हमले की कोशिश हुई. उनकी गाड़ी के शीशे तोड़ दिये गये. ईंट-पत्थर बरसाये गये.

इस पर भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि टीएमसी कार्यकर्ता बीजेपी ऑफिस पर कब्‍जे की फिराक में थे. वह इसकी जांच करने पहुंचे, तो तृणमूल समर्थकों ने उनकी कार पर हमला कर दिया. उस समय वहां लोगों के साथ पुलिस भी थी. श्री सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की ताकत लगातार बढ़ने से तृणमूल कांग्रेस घबरा गयी है. इसीलिए असंवैधानिक तरीके से भाजपा के लोगों पर हमले कर रही है. अर्जुन सिंह ने कहा कि डराने-धमकाने के लिए तृणमूल वाले हमले कर रहे हैं, लेकिन हमलोग न तो डरने वाले हैं, न ही पीछे हटने वाले.

उन्होंने कहा कि वर्ष 2021 में ममता बनर्जी के आततायी शासन का अंत हो जायेगा. उन्होंने कहा कि जिला पुलिस की भी हमलावरों के साथ मिलीभगत है. बता दें कि अर्जुन सिंह के आवास पर 25 जुलाई को भी बम फेंका गया था. आवास पर गोलीबारी भी की गयी थी. यही नहीं, हाल ही में शुक्रवार को बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष पर भी हमला किया गया था. इसी दिन उत्तर 24 परगना जिले के उत्तर बनगांव क्षेत्र के विधायक और भाजपा नेता विश्वजीत दास पर भी हमले किये गये थे. उन्हें निशाना बनाकर ईंट, पत्थर चलाये गये थे. वहीं राज्य में बीजेपी  के बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं पर TMC कार्यकर्ताओं द्वारा हमले तथा उनकी जान लेने की ख़बरें भी पिछले काफी समय से सामने आती रही हैं.

Share This Post