यादव जी के परिवार को घेर लिया मोहम्मद पिल्लू के लोगों ने,, फिर कश्मीरी अंदाज में शुरू कर दी भयानक पत्थरबाजी.. पुलिस ने बचाए प्राण

वहां यादव जी की सिर्फ इतनी सी गलती थी कि उनकी पत्नी ने अपने खेत से मोहम्मद पिल्लू की बकरियों को भगा दिया था क्योंकि बकरिया उनकी फसल चर रही थी. लेकिन मोहम्मद पिल्लू को ये पसंद न आया और उसने यादव जी के परिवार पर हमला बोला दिया. मोहम्मद पिल्लू के साथियों ने यादव जी के परिवार पर कश्मीरी अंदाज में भयंकर पत्थरबाजी शुरू कर दी. इसके बाद सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया. सूचना मिलने पर भारी संख्या में पुलिस बल पहुंचा तथा जैसे तैसे उन्मादियों को काबू किया. तनाव को देखते हुए क्षेत्र में पुलिस बल की तैनाती करनी पड़ी.

मामला उत्तर प्रदेश के चंदौली का है. चंदौली कोतवाली क्षेत्र के दुलहीपुर के लेड़ुआपर गांव निवासी दीनानाथ यादव का आरोप है कि उसके खेत में एक समुदाय के लोग अपनी बकरियां छोड़ दे रहे थे तथा मना करने के बाद भी वे मान नहीं रहे थे. बकरियां खेत में खड़ी गेहूं की फसल को नुकसान भी पहुंचा रही थीं. शनिवार की सुबह दीनानाथ की पत्नी खेत की ओर गई तो देखा कि मो. पिल्लू की बकरियां उसके खेतों में चर रही हैं. उसने बकरियों को खेतों से भगाया और घर पर पति व अन्य को जानकारी दी.

दीनानाथ यादव मोहम्मद पिल्लू के घर शिकायत करने गये तो पिल्लू उनसे झगड़ पडा. देखते ही देखते दीनानाथ के साथ मारपीट शुरू हो गई. दीनानाथ को बचाने गये उनके परिवार पर भी हमला हुआ. देखते ही देखते दीनानाथ के परिवार वालों पर कश्मीरी अंदाज में भयंकर पत्थरबाजी शुरू हो गई तथा सांप्रदायिक तनाव व्याप्त हो गया. सूचना मिलते ही सीओ सदर सहित कोतवाली, बलुआ और अलीनगर थाने की फोर्स वहां पहुंच गई. उन्होंने दोनों पक्ष के लोगों को समझाकर स्थिति पर नियंत्रण किया. सीओ सदर प्रदीप सिंह चंदेल ने बताया कि दोनों ओर से दी गई तहरीर के आधार पर दोनों तरफ के 31 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.

Share This Post