पूरे परिवार से अकेली लड़ी अस्पताल में भर्ती वो महिला… पादरी बोला- “हिन्दू हो इसलिए बेटियां हो रहीं, ईसाई बनो तो बेटा होगा”

ईसाई मिशनरिया किस तरह धर्मान्तरण का जाल फैलाती हैं, ये खबर उसी की बानगी भर है. उस महिला के बेटी तो हुईं लेकिन बेटा नहीं हुआ. इस बात से उसके ससुराल वाले परेशान थे. फिर एक दिन उसके ससुराल वालों की मुलाकात एक पादरी से हुई. इसके बाद पादरी ने जो कहा, उसे सुनकर आप चौंक उठेंगे. पादरी ने  कहा कि आप लोग हिन्दू हो, इसलिए आपके बेटियाँ हो रही है. ईसाई बन जाओ तो बेटा हो जाएगा. पादरी की बात सुनकर महिला के ससुराल वाले ईसाई बनने को तैयार हो गए लेकिन महिला ने अपना धर्म छोड़ने से साफ़ इनकार कर दिया. महिला   ने कहा कि वह खुद भी एक बेटी है तो बेटे की चाहत में अपना धर्म त्यागकर अपने पूर्वजों को कलंकित नहीं करेगी. इसके बाद महिला को अंतहीन प्रताड़ना दी गई लेकिन महिला ने ईसाई बनना स्वीकार नहीं किया. फ़िलहाल महिला अस्पताल में भर्ती है.

ईसाई मिशनरियों के धर्मान्तरण की साजिश की ये खबर हरियाणा के फतेहाबाद की है. हरियाणा के फतेहाबाद की रतिया इलाके की डिब्बा कॉलोनी में एक महिला का जबरन धर्म परिवर्तन करवाने का ये मामला सामने आया है. महिला का आरोप है कि उसके ससुराल वाले एक राजा नाम के पादरी के कहने पर उसे ईसाई धर्म अपनाने के लिए मजबूर कर रहे हैं. महिला ने बताया कि जब उसने ईसाई धर्म नहीं अपनाया तो उसके पति और ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट की. जिसके बाद उसे अब ईलाज के लिए रतिया के नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

महिला ने बताया कि उसके ससुराल वालों को बेटे की चाहत है, लेकिन पिछले दिनों उसके यहां बेटी पैदा हुई. ससुराल वालों का कहना था, कि अगर पीड़िता के द्वारा ईसाई धर्म अपनाया गया होता तो बेटा पैदा होता. महिला ने बताया कि पादरी के द्वारा उसके परिवार वालों को लगातार धर्म परिवर्तन के लिए भड़काया जा रहा है. पादरी का कहना है कि अगर महिला ईसाई धर्म अपनाने तो उसके यहां शर्तिया बेटा पैदा होगा. महिला ने बताया कि वह किसी भी हालत में ईसाई नहीं बनेगी तथा अपना धर्म नहीं छोड़ेगी. पीड़िता के द्वारा मामले की शिकायत पुलिस को दे दी गई है. वहीं, इस मामले की सूचना पाकर बजरंग दल रतिया के कार्यकर्ता भी नागरिक अस्पताल पहुंचे और महिला का हाल चाल जाना. बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस मामले में सरकार के द्वारा जल्द कार्रवाई आरोपियों पर की जाए.

Share This Post