नशा देकर बनाया जा रहा मुसलमान… युवक बोला- “मैंने चाय पी, उसके बाद बोले- मुबारक हो, अब तुम मुसलमान हो”

विशेष साजिश तथा षड्यंत्रों के तहत हिंदुत्व पर हो रहे चौतरफा वार के बीच धर्मान्तरण का एक ऐसा मामला सामने आया है जो आपको हैरान कर देगा. हिन्दू युवक रवि को गांव के ही मुस्लिम समुदाय के लोगों ने चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोशी की हालत में कोरे कागज पर हस्ताक्षर कराकर युवक को होश में आने पर बताया कि अब तुमने धर्म परिवर्तन कर लिया, अब तुम मुस्लिम बन गए हो. किसी तरह युवक ने इस पूरे मामले की जानकारी अपने परिजनों को दी, तो परिजनों ने थाने में धर्म परिवर्तन कराने वाले लोगों के खिलाफ तहरीर दे दी है. पुलिस मामले की छानबीन में लगी है.

धर्म परिवर्तन का ये सनसनीखेज मामला उत्तर प्रदेश केमुजफ्फरनगर के मंसूरपुर थाना क्षेत्र का है. पीड़ित युवक रवि कश्यप ने मीडिया को बताया कि वह नाई की दुकान करता है. पिछले 5 वर्षों से वह अपने गांव के ठेकेदार यूसुफ के साथ बंगलुरू में नाई का कार्य कर रहा था. उसके साथ आमिर, जाकिर, आरिफ पुत्रगण नदीम, नफीस, आसिफ पुत्र यूसुफ निवासी बोपाड़ा भी काम करते हैं. पीड़ित रवि ने बताया कि एक फरवरी को वह घर आया था तभी उसे उसे आरोपियों ने घर पर बुलाया व नशीली चाय पिलाई. इससे वह बेहोश हो गया. जब उसे होश आया तो उसने अपने आपको गांव के एक मदरसे में पाया. वहां उसे मौलाना ने बताया गया कि उसका उपचार किया जा रहा है. और मौलाना समेत सभी लोगों ने उसपर धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाया. इसके बाद उसे मुजफ्फरनगर में एक अज्ञात मकान में 5 दिनों तक बंधक बनाकर रखा गया. कुछ कोरे कागज पर उसका अंगूठा लगवाकर हस्ताक्षर भी कराए तथा कहा कि अब तुम मुसलमान बन चुके हो तथा तुम्हारा नाम अब रवि नहीं बल्कि आस मोहम्मद है.

इसके बाद उसे मुजफ्फरनगर ले जाया गया तथा बाद में पुनः बैंगलुरु ले जाया गया और कहा गया कि तुम्हारी शादी करा दी जाएगी और विदेश में नौकरी दी जाएगी. युवक ने धर्म परिवर्तन करने को इंकार किया, तो उसको प्रताड़ना दी गयीए तथा जान से मारने की धमकी भी दी गई. जब गांव से युवक के पास परिजनों ने फोन किया कि उसके पिता की तबीयत खराब है, तो उसने गांव जाने की जिद की, मगर उन्होंने जाने से सापफ इंकार कर दिया. एक दिन मौक़ा पाकर किसी तरह वह उन कागजों को लेकर उन लोगों के चंगुल से छूटकर अपने घर आया और उसने अपनी आपबीती परिवार वालों को बताई, तो सभी परिजन उसे अपने साथ लेकर थाने में पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर तहरीर दी, जिसके बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है.

Share This Post