भारत के राष्ट्रध्वज से इतनी नफरत कि जनता भी हो गयी दंग… जब पुलिस ने मारा छापा तो इस हाल में मिला तिरंगा

ये वो लोग हैं जो कहते हैं कि उनकी राष्ट्रभक्ति पर शक नहीं किया जाना चाहिए. ये वो लोग हैं जो भारतमाता के अंचल को लहूलुहान करने वाले आतंकी याकूब मेमन के जनाजे में गर्व के साथ शामिल होते हैं. ये वो लोग हैं जो बुरहान वानी, अफजल गुरु को अपना हीरो मानते हैं तथा भारतीय सेना को मानवाधिकार का दुश्मन मानते हैं. ये वो लोग हैं जो क्रिकेट के मैदान में भारत पाकिस्तान मैच के दौरान पाकिस्तान की जीत दुआ करते हैं तथा अगर ऐसा हो जाता है तो ये लोग इसका जश्न मनाते हैं. इसके बाद इन पर कार्यवाही करना तो दूर अगर इनसे सवाल भी कर लिया जाए तो ये लोग कहते हैं कि उनकी राष्ट्रभक्ति पर शक किया जा रहा है.

मोहम्मद शाहरुख भी इन्हीं लोगों में से एक था. लेकिन  मोहम्मद शाहरुख़ ने वो किया जो एक हिन्दुस्तानी नागरिक सोच भी नहीं सकता. हिंदुस्तान की शान राष्ट्रध्वज तिरंगे के प्रति मोहम्मद शाहरुख की नफरत को देख जनता दंग रह गयी. मामला उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर का है जहाँ भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान करने वाले आरोपी मोहम्मद शाहरुख़ को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जानकारी के अनुसार यूपी के मुजफ्फरनगर रेलवे स्टेशन पर कुली की नौकरी करने वाला मोहम्मद शाहरुख़ भारतीय तिरंगे को रामपुर इलाके में स्थित अपने घर के परदे के रूप में इस्तेमाल करता था. ग्रामीणों को जब इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी, ग्रामीणों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी मोहम्मद शाहरुख़ के घर पर छापेमारी की.

छापेमारी के दौरान ग्रामीणों के आरोप सही पाए गये जिसके बाद पुलिस ने आरोपी मोहम्मद शाहरुख़ को कर और राष्ट्रीय ध्वज को अपने कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है. ग्रामीणों का कहना है कि जो तिरंगा हमारी आन बान शान है, जिस तिरंगे के स्वाभिमान के लिए भारतीय सेना के जवान बॉर्डर पर अपने प्राणों का बलिदान देते हैं, उस तिरंगे को मोहम्मद शाहरुख़ घर के पौंछे के रूप में इस्तेमाल करता था, जो उनसे स्वीकार नहीं हुआ तथा उन्होंने पुलिस में शिकायत की.

Share This Post