सर! अज़ीम मेरी बहन पर गलत नज़र रखता था.. मेरी बहन घर की इज्जत थी और इज्जत हमें जान से प्यारी है,, इसलिए अज़ीम को मार डाला


सर! अज़ीम मेरी बहन पर गलत नज़र रखता था.. मेरी बहन घर की इज्जत थी और इज्जत हमें जान से प्यारी है,, इसलिए अज़ीम को मार डाला. ये कहना था मेरठ पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये मुजफ्फरनगर निवासी अज़ीम की ह्त्या करने शिवम का. मेरठ पुलिस एसएसपी नितिन तिवारी ने शनिवार को पुलिस लाइन में प्रेस वार्ता में बताया कि शुक्रवार की देर रात चेकिंग के दौरान सदर पुलिस ने कैंट रेलवे स्टेशन के निकट कार सवार दो युवकों को रोका. तलाशी के दौरान उनके पास से तमंचा और कारतूस बरामद हुए.

एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया जब कार की गहनता से जांच की गई तो पुलिस को उसमें खून के धब्बे नजर आए. सख्ती से पूछताछ करने पर युवकों ने अपने नाम मुजफ्फरनगर निवासी शिवम और जानसठ निवासी अरव राजपूत बताए. पूछताछ के दौरान आरोपी शिवम ने बताया कि उसका पड़ोसी अजीम टैक्सी चलाता था. उसने आरोप लगाया कि अजीम उसकी बहन पर गलत नजर रखता था. कई बार समझाने के बाद जब अजीम अपनी हरकत से बाज न आया तो शिवम ने अपने दोस्त अरव के साथ मिलकर अजीम की हत्या की योजना बनायी.

शुक्रवार को दोनों आरोपितों ने अजीम की टैक्सी बुक की. शामली ले जाते समय रास्ते में उन्होंने अजीम को जूस में नशे की गोलियां मिलाकर पिला दी, जिसके बाद वह अचेत हो गया. इसके बाद आरोपितों ने गोली मारकर और चाकू से गोदकर अजीम की हत्या कर दी और शव को गन्ने के खेत में फेंक कर उसकी कार लेकर फरार हो गए. एसएसपी ने बताया कि आरोपितों के पास से अजीम की कार और हथियार बरामद किए गए हैं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share