वो मकान मालकिन कमरा हिंदू और मुस्लिम दोनों को एक नजर से देती थी.. फिर एक दिन कमरा मांगने से आया था इमरान.. उसके बाद सब बदल गया

वो महिला आज की कथित सेक्यूलर विचारधारा को मानती थी तथा कहती थी कि उसके लिए हिन्दू-मुस्लिम मायने नहीं रखता बल्कि इंसानियत में विश्वास करती है. इसीलिये वो अपने मकान में हिन्दू तथा मुसलमान दोनों को कमरा किराए पर देती थी. एक दिन इमरान किराए पर कमरा लेने के लिए उसके पास आया तो उसने हँसी-हँसी इमरान को कमरा किराए पर दे दिया. इसके बाद जो हुआ, महिला को उसका अंदाजा नहीं था. इमरान ने महिला के साथ बलात्कार किया, उसकी अश्लील वीडियो बनाई तथा वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगा. इसके बाद महिला ने 20 अप्रैल को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

खुलने लगी श्रीलका आतंकी हमले की परतें.. सामने आ रहा पाकिस्तानी कनेक्शन

मामला उत्तर प्रदेश के प्रयागराज का है. पीड़ित महिला के के मुताबिक उसके दो मकान हैं. एक मकान में वह खुद रहती हैं, दूसरा मकान जो एडीए कालोनी में है. दूसरे मकान में उसने इमरान को एक कमरा तीन हजार रुपये प्रति माह किराए पर दे रख था. करीब चार महीने पहले इमरान ने अपनी मां की तबियत खराब होने का बहाना बताकर पीड़िता मकान मालकिन से 1.35 लाख रुपये उधार लिए थे. इधर तीन महीने से वह किराया भी नहीं दे रहा था. जब उसने किराया मांगा तो गत 29 मार्च को इमरान ने उसे फोन करके कहा कि आकर अपना पैसा ले जाओ. पीड़िता का आरोप है कि जब वह घर पर पहुंची तो उसे चाय पीने के लिए दी गई.

जिस पाकिस्तान के साथ बहिष्कार के समय सेक्यूलर श्रीलंका ने खेला था मैच.. अब उसी पाकिस्तान ने दिया श्रीलंका को ये रिटर्न

चाय पीते ही उसे चक्कर आने लगा और वह बेहोश हो गई. जब होश आया तो इमरान वहां नहीं दिखा, इसलिए पीड़िता चुपचाप घर चली गई. घर पहुंचने पर उसके और उसके बेटे के मोबाइल पर एक व्हाट्सएप वीडियो मैसेज आया, जिसे देखने पर पीड़िता के होश उड़ गए. वह उसका अश्लील वीडियो था. जिसमें अचेतावस्था में इमरान उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर उसका अश्लील वीडियो बनाया गया था. फिर इमरान ने धमकी दी कि अगर किराया और उधारी मांगा तो ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया जाएगा.

एक चेतावनी भारत ने पहले ही दी थी सेक्यूलर श्रीलंका को.. लेकिन अब वो आधिकारिक रूप से बोला कि- “काश हम मान लिए होते”

इसके बाद पीड़िता मकान मालकिन चुप रही. पीडिता ने बताया कि इसके बाद इमरान उसको ब्लैकमेल करने लगा. लेकिन जब इमरान की धमकी तथा ब्लैकमेलिंग बढ़ती गई तो अंत में पीड़िता पुलिस की शरण में पहुंच गई तथा उसने इमरान के खिलाफ मामला दर्ज कराया. पुलिस का कहना है कि आईटी एक्ट समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मो. इमरान को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पीएम मोदी के आगे दुनिया नतमस्तक.. सात अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार पाने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post