अपने ऑफिस को बलात्कार का अड्डा बना चुका था ठेकेदार शौकत.. वहां काम नहीं बल्कि लूटी जाती थी नारी की इज्जत

देवभूमि उत्तराखंड के नानकमत्ता से एक शर्मनाक मामला सामने आया है जहाँ एक ठेकेदार अपने ऑफिस को बलात्कार का अड्डा बना था जहाँ काम नहीं बल्कि महिलाओं की इज्जत लूटी जाती थी. खबर के मुताबिक़, नानकमत्ता के एक दफ्तर में काम करने वाली महिला के साथ ठेकेदार ने दुष्कर्म किया. महिला ने पुलिस से मामले की शिकायत की. सोमवार दोपहर जब बलात्कारी ठेकेदार शौकत पुनः महिला के पास तो पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया.

बताया गया है कि खटीमा क्षेत्र की एक महिला नगर के एक जनजाति समिति के कार्यालय में काम करती है. सोमवार को महिला ऑफिस में अकेली थी. सुबह करीब 11 बजे डियूढ़ी गांव निवासी ठेकेदार शौकत उसके कार्यालय पहुंचा. महिला को अकेले पाकर ठेकेदार ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया और चला गया. दोपहर एक बजे ठेकेदार ने महिला को फोन कर एक बार फिर दफ्तर आने की बात कही. इस पर महिला ने पति को घटना की जानकारी देकर थाने में तहरीर सौंपी.

इस पर पुलिस ठेकेदार के आने से पहले ही ऑफिस आ गई और जैसे ही ठेकेदार वहां पहुंचा तो पुलिस ने उसे पकड़ लिया. पुलिस ने महिला को मेडिकल के लिए सितारगंज भेजा. महिला की तहरीर के आधार पर आरोपी शौकत के खिलाफ आईपीसी 376 और एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. देर शाम पुलिस क्षेत्राधिकारी कमला बिष्ट ने थाने पहुंचकर महिला के बयान दर्ज किए और थानाध्यक्ष दौलतराम वर्मा को आवश्यक निर्देश दिए.

Share This Post