2 बेटियों संग बलात्कार हुआ तो जान दे दी फातिमा ने.. अब्बा था अकरम पर जिम्मेदार वही था

महाराष्ट्र के पुणे के भोसरी इलाके में हुई इस वारदात की खबर जिसने भी पढ़ी, उसके रौंगटे खड़े हो गये. पहले तो ये मामला साधारण आत्महत्या का लग रहा था लेकिन  इसके पीछे की कली सच्चाई सामने आई तो जिसने  सुना वही दंग रह गया. खबर के मुताबिक़, रविवार को पुणे के भोसरी इलाके में किराए के फ्लैट से एक 28 वर्षीय महिला और उसके तीन बच्चों का शव फाँसी पर लटकता हुआ मिला था. जिसे देखकर पहले यह अनुमान लगाया गया था कि महिला फातिमा ने पहले अपने तीनों बच्चों अलीफिया (9) ज़ेबा (7) जियान (5) की हत्या की और फिर खुद आत्महत्या कर ली.

लेकिन फातिमा ने तीनों बच्चों के साथ आत्महत्या क्यों की, इसका जवाब किसी के पास नहीं था. किसी को समझ नहीं आ रहा था, हमेशा हँसते रहने वाली फातिमा ने इतना बड़ा कदम क्यों क्यों उठाया. लोग तथा खुद पुलिस इसका जवाब खोज ही रही थी कि तभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई. अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जो खुलासा हुआ, उसने सभी को हैरान कर दिया. रिपोर्ट के मुताबिक, फातिमा की 9 और 7 साल की दो बेटियों के साथ हत्या से पहले रेप किया गया था. अब इस मामले में पुलिस ने फातिमा के शौहर अकरमको गिरफ्तार कर लिया है तथा उससे पूंछताछ कर रही है.

प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार, कर्नाटक की रहने वाली 28 वर्षीय महिला फातिमा अपने फल विक्रेता शौहर अकरम के साथ कुछ दिन पहले भोसरी के तलेगांव दाभाड़े स्थित नूर मोहल्ला में रहने आई थी. यहाँ वह किराए के मकान में परिवार के साथ रह रही थी. पुलिस ने बताया कि हिरासत में लिया गया शख्स अकरम पहले फल विक्रेता के तौर पर काम करता था. कर्नाटक से आने के बाद वह काम की तलाश में था. फातिमा के पिता की भी मौत हाल ही में हुई थी, जिसे लेकर भी वह तनाव में थी.

ये भी कहा जा रहा है कि अकरम और फातिमा के बीच पैसे को लेकर अक्सर झगड़ा होता रहता था. उस दिन काम खोजने की बात कह कर बाहर चला गया. शाम को जब वह लौटा तो उसके 9 साल, 7 साल की बेटी और पाँच साल के बेटे और पत्नी का शव नायलोन की रस्सी से फाँसी पर लटका हुआ मिला था. बच्चों और पत्नी के शव अलग-अलग कमरों में थे. ये भी कहा जा रहा है कि अकरम की नियत इपनी बेटियों को लेकर ख़राब थी, जिससे फातिमा और परेशान थी. और जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दोनों बच्चियों के साथ रेप की पुष्टि हुई है तो आशंका है कि शायद अकरम ने इसको अंजाम दिया, हालाँकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है.

बताया गया है कि अकरम जब शाम को घर लौटा तो दरवाजा अंदर से बंद था. काफी आवाज लगाने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला, तो उसने तुरंत पुलिस को सूचना दी. पुलिस के आने के बाद अंदर का दरवाजा खोला गया तो देखा कि चारों के शव लटके हुए थे. कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था. शुरूआती दौर में मामला आत्महत्या का लग रहा था लेकिन अब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बेटियों अलीफिया और ज़ेबा से रेप की पुष्टि होने के बाद मामले ने नया मोड़ ले लिया है. अब पुलिस नए सिरे से जाँच कर रही है तथा अकरम को हिरासत में लेकर नए सिरे से पूछताछ की जा रही है।

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW