Breaking News:

गरीबों की शादी में शराब की व्यवस्था करवाने जा रही है एक सरकार जबकि कई बच्चे तरस रहे हैं दूध के लिए और मौतें हो रही हैं भूख से

ये वो देश है जहाँ भूख से मौतों पर कोर्ट तक ने कड़ा रुख अपनाया है . ये वही देश है जहाँ पर विपक्ष में बैठी पार्टियाँ गरीबों का मुद्दा मुख्य रूप से उठाया करती है . यही वो देश है जिसमे गरीबी के नारे पर कई सरकारें बनी और कई गिरी हैं . लेकिन उसी देश में जहाँ बच्चो को दूध , बड़ों को खाना और निराश्रितों को कम्बल नहीं उपलब्ध है वही उसी देश में एक प्रदेश का मंत्री खुल कर गरीबों को जब शराब पिलाने की बात करता है तो एक बार लोगों का चौंक जाना स्वभाविक है .

ज्ञात हो कि ये एलान हुआ है मध्य प्रदेश में जहाँ पर एक लम्बे समय के बाद कांग्रेस की वापसी हुई है . इस समय मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार तमाम वादे और दावे पूरे करने की जुगत में लगी है लेकिन अब उनकी तरफ से होने लगे हैं ऐसे एलान जो किसी के गले नहीं उतर रहे हैं . इतना ही नहीं , इन वादों का जिक्र भी उन्होंने कभी किसी घोषणा पत्र तो दूर किसी चुनावी सभा या भाषण में नहीं किया था . यद्दपि शायद ही इस से पहले कभी ऐसा एलान हुआ रहा हो .

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार में उच्च शिक्षा विभाग, खेल एवं युवा मामलों के मंत्री जीतू पटवारी अपनी ही सरकार की योजनाओं को जनता के बीच अपने अंदाज़ में बताने में लगे हैं . हाल ही में उन्होंने कमलनाथ सरकार द्वारा कन्या विवाह योजना की राशि 51 हजार रुपए करने की योजना को लेकर कहा कि हमारी सरकार गरीबों के लिए शादी में शराब पिलाने की भी व्यवस्था कर रही है।क गरीब परिवार, जो किसान है, मजदूरी करता है, उसकी बेटी की जब शादी आती है तो घर में हर तरह की व्यवस्था करनी पड़ती है। खाना-पीना करना पड़ता है, पीने के लिए और तरह की देसी-विदेसी व्यवस्था करनी पड़ती है। जानता हूं मैं इस बात को, तो कहां से आए वो पैसा। इसकी व्यवस्था भी आदरणीय कमलनाथ जी ने की।’ इस बयान के आने के बाद राजनीति का घमासान शुरू हो गया है .

Share This Post