गौ रक्षकों को क्यों बदनाम किया गया जान बूझ कर हल्ला बोल कर .. ये घटना देगी उत्तर


जहां एक ओर हिन्दू समाज में गाय को पूजा जाता है, तो वहीं दूसरी ओर अज्ञात लोग गाय के मांस की तस्करी करने का घिनोना अपराध कर रहे है। ऐसे लोगों में दया नाम की कोई भावना नहीं होती। गौ तस्करी से सम्बंधित एक और मामला पुलिस के सामने आया है। पुलिस को ट्रक में मांस होने की सुचना मिली और तस्करी की आशंका में उस ट्रक को कब्जे में ले लिया।

कैंटर से भयानक बदबू आ रही थी और पानी टपक रहा था। ट्रक में मांस की खबर सुन तमाम भीड़ उमड़ पड़ी। भीड़ को देखते हुए पुलिस ने ट्रक को रामगंगा की कटरी में ले जाकर उसका डाला खुलवाया तो देखा कि जानवरों की हड्डियां थीं।
उस संदिग्ध ट्रक से बरामद हुई जानवरों की हड्डियां को देख ट्रक चालक से ट्रक के कागज मांगने पर जब चालक कागज नहीं दिखा पाया तो ट्रक को सीज कर दिया गया।  कोतवाल ललित मोहन ने बताया कि कैंटर खोलने पर उसमें हड्डियां हीं निकलीं। इसकी वीडियोग्राफी भी करा ली गई है। पूछताछ करने पर ट्रक चालक ने सारी जानकारी पुलिस को दे दी। चालक ने पुलिस को बताया कि वह बिहार से हड्डियां भरकर रामपुर जा रहा था। वहीं, पुलिस ने ट्रक सीज करके जनमानस के जीवन को खतरे से संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दिया और मामले की जाँच कर रही है।  
पुलिस ने मांस तस्करी की आशंका में एक ट्रक को कब्जे में ले लिया। ट्रक से भयानक बदबू आ रही थी। पुलिस ने ट्रक को रामगंगा की कटरी में ले जाकर उसका डाला खुलवाया तो देखा कि जानवरों की हड्डियां थीं। ट्रक और हड्डियों के संबंध में चालक कागज नहीं दिखा पाया सो ट्रक सीज कर दिया गया। सूचना के आधार पर पुलिस ने आज डहरपुरकलां तिराहे पर एक कैंटर पकड़ा। ये घटना गवाही है अपने आप में कि आखिर क्यों हल्ला बोला गया जान बूझ कर हिन्दुओं के खिलाफ , बेनकाब हो रहे हैं वो सारे के सारे जिन्होंने एक सोची समझी रणनीति बनायी थी गौ माता के खिलाफ …

सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...