स्कूल का नाम था सेंट जोसेफ… कक्षा 5 की बच्चियों के साथ हो रहा था ये सब उस अंग्रेजी स्कूल में जो शर्म को भी करेगा शर्मशार

स्कूल का नाम था सेंट जोसेफ लेकिन वहां शिक्षा की आड़ में हो रहा था मासूम बच्चियों के भविष्य के साथ खिलवाड़, वहां तबाह की जा रही थी उन मासूम छत्राओं की इज्जत और आबरू जिन्हें ठीक से अभी इस दुनिया की ABCD भी नहीं पता थी. मामला बिहार की राजधानी पटना का है जहाँ एक नामी मिशनरी स्कूल के वॉशरूम में बच्चियों का वीडियो बनाया जा रहा था. बच्चियों की शिकायत पर जब स्कूल प्रशासन ने कोई कदम नहीं उठाया तो अभिभावकों ने नाराजगी जताई. हंगामा होने पर स्कूल प्रशासन ने इसपर एक्शन लेने की बात कही है. हालांकि कोई एफआईआर नहीं दर्ज करवाई गई है.

मीडिया सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक़, पटना के अशोक राजपथ पर स्थित सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल के वॉशरूम में बच्चियों का विडियो बनाया जा रहा था. बता दें कि इसमें पांचवीं क्लास तक की बच्चियों के लिए अलग से वॉशरूम बनवाया गया है. इसी में बच्चियों का वीडियो बनाया जा रहा था. स्कूल परिसर के बाहर से वॉशरूम यूज कर रही बच्चियों का वीडियो बनाया जाता था. ये मामला एक हफ्ते पहले तब सामने आया जब एक बच्ची ने अपने क्लास टीचर से इसकी शिकायत की. लेकिन बच्चियों की बात पर टीचर ने लापरवाह रवैया अपनाया और कोई एक्शन नहीं लिया.

शुक्रवार को जब एक बच्ची का वीडियो बनाया जा रहा था तो वह रोने लगी. स्कूल प्रशासन ने इसके बाद भी एक्शन नहीं लिया. बच्चियों ने जब यह बात अपने पैरेंट्स को बताई तो अभिभावक स्कूल पहुंच गए. हालांकि स्कूल प्रशासन ने इसके बाद भी सिर्फ आश्वासन ही दिया. अभिभावकों ने बताया कि एक बच्ची को वीडियो बनाने वाले ने चाकू भी दिखाया था. बताया जा रहा है कि स्कूल में जो वॉशरूम बनाए गए हैं वह मानक के अनुरूप नहीं है. ऊपर से जाली लगे वॉशरूम में बाहर की ओर से ये वीडियो बनाया जा रहा था. मामला सामने आने के बाद छात्रों के परिजन काफी गुस्से में हैं.

Share This Post