बलात्कारी पादरी को मिला आजीवन कारावास तो मुस्कुरा उठे तमाम चेहरे.. भारत की एक अदालत ने दिया महान न्याय

ईसाई धर्म प्रचारक पास्टर चरकु ऊरांव जिसको सभी लोग पादरी कहते थे तथा वह खुद को जीसस का पुत्र बताते हुए सभी को उन्ही रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित करता था तथा जीसस के प्रचार की आड़ में वह गरीबों का धर्मान्तरण कराते हुए उन्हें ईसाई बनाता था. ईसाई पादरी चरकु ऊरांव  कारनामे सिर्फ धर्मान्तरण तक सीमित नहीं बल्कि वह हैवानियत का दूसरा नाम था, उसके लिए मासूम बच्चिया वो  खिलौना थी, जिनके साथ वह हवस की भूख को मिटा सके.

श्रीरामनवमी को बता दिया वोट बटोरने का नया हथकंडा.. चुनाव ले रहा नए नए रूप

फिर एक दिन उसके जाल में 4 वर्षीय मासूम बच्ची फंस गई जिसके साथ उसने क्रूरतम तरीके से बलात्कार की घटना को अंजाम दिया. मामला झारखंड के गुमला जिले का है जहाँ इस मामले में बल्ताकरी पादरी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है. साथ ही उसपर 25 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है. साथ ही पीड़िता व उसके परिजनों की समुचित देख-रेख, पुनर्वास व शिक्षा के लिए सरकारी सहायता देने की बात कही है. बलात्कारी पादरी को आजीवन कारावास की सजा सुनाये जाने के बाद लोगों के चेहरे पर मुस्कान तैर गई तथा उन्होंने न्यायालय का धन्यवाद किया.

कभी संजय दत्त, जया बच्चन को प्रचार में उतारने वाली पार्टी ने एक भोजपुरी कलाकार को कहा नाचने वाला

बताया गया है कि झारखंड के  गुमला जिले के चैनपुर प्रखण्ड स्थित कुरूमगढ़ थाना में बसे मनातू गांव का पादरी एक चर्च से जुड़ा हुआ था. वह किराए के मकान में रहकर धर्म प्रचार का काम करता था. वह पत्नी सहित पांच बच्चों का पिता भी है.. लेकिन मौका पाकर उसने अपने घर में उस अबोध बच्ची को बुलाया और उसके साथ दरिंदगी की. बच्ची की नानी की शिकायत के बाद पुलिस ने दुष्कर्मी पादरी को गिरफ्तार कर लिया था जिसे अब कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है.

अगली सरकार बनने पर कश्मीर से हटेगी 370, देशभर में लागू होगा NRC तथा हर हिन्दू शरणार्थी को मिलेगी नागरिकता- अमित शाह

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post