देव दीपावली के पावन पर्व पर हुई मां गंगा की महाआरती


चंदौली / उत्तर प्रदेश

चंदौली जनपद के बलुआ घाट पर देव दीपावली के पावन पर्व पर 21000 दीपों की रोशनी से जगमगा उठा *चन्दौली जिले का बलुआ गंगा घाट* मुख्य अतिथि रमेश जी प्रान्त प्रचारक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर रहे आपको बता दे कि कार्तिक पूर्णिमा को माँ गंगा की धारा के समान्तर ही प्रवाहमान होती है।

*माना जाता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन देवतागण दिवाली मनाते हैं* मान्यता है की तीनों लोको मे त्रिपुराशूर राक्षस का राज चलता था देवतागणों ने भगवान शिव के समक्ष त्रिपुराशूर राक्षस से उद्धार की विनती की. भगवान शिव ने कार्तिक पूर्णिमा के दिन राक्षस का वध कर उसके अत्याचारों से सभी को मुक्त कराया और त्रिपुरारी कहलाये इससे प्रसन्न देवताओं ने स्वर्ग लोक में दीप जलाकर दीपोत्सव मनाया था तभी से कार्तिक पूर्णिमा को देवदीवाली मनायी जाने लगी देवदिवाली एक दिव्य त्योहार है।

प्रबुद्ध मिट्टी के लाखों दीपक गंगा नदी के पवित्र जल पर तैरते नजर आये एक समान संख्या के साथ बलुआ घाट और सीढ़ियों धूप और मंत्रों की पवित्र जप का एक मजबूत सुगंध से भर जाता है. इस अवसर पर एक धार्मिक उत्साह होता है. जो देव दिवाली के रूप में मनाया जाता है।

प्रशान्त सिंह

वेब जर्नलिस्ट 

9264915248

 

विडियो देखे 👇


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share