ममता के मंत्री नहीं मानते केन्द्र सरकार के फैसले, कहा- हमने नहीं लगाई पाबंदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश से ‘वीआईपी कल्चर’ को खत्म करने की कावायद को पश्चिम बंगाल के एक मंत्री ने सोमवार को अपनी कार पर लालबत्ती लगाई. यही नहीं, पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार में लोक निर्माण मंत्री (पीडब्ल्यूडी मंत्री) अरूप बिस्वास ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कार की छत पर लालबत्ती के इस्तेमाल पर लगाई गई पाबंदी की अवहेलना करते हुए कहा कि लालबत्ती पर हमारी सरकार (तृणमूल कांग्रेस) ने पाबंदी नहीं लगाई है।
 
सड़को पर अबाध आवागमन की सुविधा को ध्यान में रखते हुए केन्द्र सरकार ने कहा था की मंत्री अपने कारों पर लालबत्ती का इस्तेमाल नहीं करेगें। मई  माह की शुरुआत से लागू इस पाबंदी को बहुत-से मंत्रियों ने 1 मई का भी इंतज़ार नहीं किया प्रधानमंत्री के उत्तरार्द्ध में की गई घोषणा के तत्काल बाद ही मंत्रियों ने अपनी कारों से लालबत्तियां हटा दी थीं. केन्द्र सरकार ने कहा था कि आपातकालीन सेवाओं के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले वाहनों को ही सड़क पर निर्बाध आवागमन का अधिकार मिलना चाहिए.
  
गौरतलब है की सरेआम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध करती रही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी अक्सर अपने आप को ‘एलआईपी’ (लीस्ट इम्पॉर्टेन्ट पर्सन, यानी सबसे कम महत्वपूर्ण व्यक्ति) कहती रही हैं. हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक भाषण के दौरान कहा था कि नए भारत में वीआईपी नहीं, ईपीआई का ज़ोर होगा, जहां ईपीआई का अर्थ है – प्रत्येक व्यक्ति महत्वपूर्ण है (एवरी पर्सन इज़ इम्पॉर्टेन्ट).
Share This Post