अरब के शेखों को पीछे छोड़ दिया भारत के मुस्तकीम ने.. 13वीं बीबी का इसलिए कत्ल किया क्योंकि लानी थी 14वीं

सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीन तलाक पर दिए गए फैसले के बाद भी मुस्लिम महिलाओं की हालत में सुधार नहीं हो रहा हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जहां विकास की नई राह दिखाने की जुगत में हैं, वहीं कुछ ऐसे लोग भी है, जो निकाह का रिकार्ड बनाने की खातिर हत्या की करने से भी गुरेज नहीं कर रहे हैं।

ऐसा ही एक मामला रायबरेली के नसीराबाद इलाके का है, जहां निकाह करने के लिए एक वहशी युवक ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी।

एक युवक ने गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज कराने के लिए एक के बाद एक पत्नी को लड़ झगड़ कर घर से भगाता रहा। चंद रोज पहले उसने अपनी 13वीं पत्नी की भी गाला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद उसने शव को गांव के पास ही झाडिय़ों में फेंक दिया।

बता दें कि चार वर्ष पहले अपनी लड़की रेशमा का निकाह फुरसतगंज थाना क्षेत्र के पूरे काले खां मजरे तेंदुआ निवासी मुस्तकीम के साथ किया था। मुस्तकीम का यह 13वां निकाह था। निकाह के सिर्फ दो वर्ष के बाद रेशमा और मुस्तकीम में झगड़ा होने लगा।

विवाद से आजिज आकर सप्ताह भर पहले मुस्तकीम खुद अपनी ससुराल पहुंचा और ससुर सत्तार के पास गया।

उसने कहा कि बेटी को ले आओ लेकिन रेशमा को लाने कोई नहीं गया। इसके बाद बीते सोमवार को अचानक रेशमा घर से लापता हो गई। चार दिन बाद महिला का शव मिलने के बाद परिवारीजनों की तहरीर के आधार पर आरोपी पति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं पुलिस ने हत्या के आरोपी मुस्तकीम को गिरफ्तार कर लिया तो उसके इतिहास की जानकारी जुटाई जाने लगी। 

* फोटो सांकेतिक हैं 


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share