वो जान चुकी थी उनकी जहरीली फितरत, इसलिए उसने कर दिया निकाह से इंकार…फिर भी उसे मार डाला


आक्रान्ताओं की हिमाकत तो देखिये, धन्नू मियाँ तथा उसके साथी उस युवती के साथ जबरान निकाह करना करना चाहते थे लेकिन वो हिन्दू युवती उनकी फितरत जानती थी अतः उसने इससे साफ़ इंकार कर दिया. लेकिन उसके बाद भी वो नहीं माने तथा जबरन युवती का अपहरण करके ले गये लेकिन जैसे तैसे वो बच के वापस आयी तो एक दिन उन आक्रान्ताओं ने युवती को अकेला पाकर उसके ही घर में घुसकर उसको गले में फंदा खींचकर मार डाला.

मामला बिहार के सीवान से जुदा हुआ है. खबर के मुताबिक नगर थाने के नया किला नवलपुर मोहल्ले में शुक्रवार की सुबह करीब चार बजे चार युवक घर में अकेली एक किशोरी को पाकर उसके गले में फंदा डाल कर हत्या कर फरार हो गये. घटना की जानकारी तब हुई, जब उसकी बड़ी बहन सुभावती काम करके करीब आठ बजे घर पहुंची. मृत किशोरी का नाम रंभा कुमारी है, जो नया किला नवलपुर निवासी स्व. दशरथ चौहान की पुत्री थी.घटना के संबंध में मृतका की बहन सुभावती ने बताया कि गुरुवार की शाम को जब उसकी मां, वह और बहन काम करने गयी थी. उसी दौरान उसकी बहन को गोलवाघाट नवलपुर का निवासी धन्नु मियां आया तथा उसकी बहन को जबरदस्ती लेकर चला गया. घर आने पर आसपास के लोगों से जब इसकी जानकारी सुभावती को मिली, तो वह अपनी बहन को खोजने गयी.

एक जगह पर धन्नु और उसकी बहन मिले जहाँ धन्नू जबरन अपने साथियों के सहयोग से रम्भा को बंधक बनाये था, वहां से सुभावती जैसे तैसी अपनी बहिन को छुडाकर घर लाई. मृतका की बहिन सुभावती ने आरोप लगाया कि रात में ही धन्नु ने उसकी बहन की हत्या करने की धमकी दी थी.पुलिस ने सुभावती के बयान पर मामला दर्ज कर गोलवाघाट नवलपुर मोहल्ले के धन्नु मियां, रौशन मियां, मिठ्ठु मियां, अमन मियां तथा महिला शकीबा को आरोपित किया है. स्थानीय लोगों की बात मानें, तो धन्नु और उसके साथी रंभा कुमारी से शादी करना चाहते थे. लेकिन, वे लोग इसमें सफल नहीं हुए, तो उसकी हत्या कर डाली. मृतका छह बहनें थीं. पिता का साया बचपन में उठ जाने के बाद मां और बेटियां दूसरों के घरों में काम करके अपना पेट पालती थी. इधर, घटना की सूचना मिलने पर नगर थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तथा लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share