कांवड़ यात्रा के लिए फूल लेने गये किशोर को मदरसे में खींच ले गया मौलाना.. बांधकर बेरहमी से मारा

वो किशोर कांवड़ यात्रा के लिए फूल तोड़ने के लिए गया. जहां से वो किशोर फूलन तोड़ने के लिए गया था, उसके पास ही मदरसा था. जैसे ही मदरसे के मौलाना ने किशोर को फूल तोड़ते हुए देखा, वह भड़क उठा तथा किशोर को मदरसे में खींच ले गया. मदरसे में ले जाकर मौलाना ने किशोर को बंधक बनाकर जमकर पीटा. मामला उत्तर प्रदेश के लखीमपुर का है. इसके बाद किशोर के परिजनों की तरफ से मौलाना के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई. शिकायत के आधार पर पुलिस ने मौलाना को गिरफ्तार कर लिया है.

हिन्दू धर्म विवाह को मानता है जन्म जन्मान्तर का पवित्र बंधन. लेकिन इस्लाम में निकाह क्या है ? इसे बताया ओवैसी ने..

खबर के मुताबिक़, लखीमपुर के बड़ा गांव निवासी श्री कृष्ण शर्मा का पुत्र निहाल शर्मा (12) बुधवार बुधवार करीब 9 बजे अतरिया स्थित मदरसे के पास फूल तोड़ने गया था. इस दौरान मदरसे के मौलाना नसीबउल्ला ने उसे दबोच लिया और घसीटता हुआ मदरसे के भीतर ले गया. यहाँ मौलाना ने अपने साथियों के साथ मिलकर नाबालिग को रस्सी से बाँधा और उसके बाद डंडों और बेल्ट से इतना पीटा कि उसका शरीर लाल पड़ गया. इतना ही नहीं नाबालिग को काफी देर तक बंधक बनाकर भी रखा गया. मौलाना और उसके साथियों ने बारी बारी से किशोर से हैवानियत की.

हितेश को जलाकर मार डाला फिरोज, कुरैशी और उसके साथियों ने.. असहिष्णुता गैंग से कोई एक भी नहीं बोला कि ये भी है मॉब लिंचिंग

किशोर जब वहां से छूट कर अपने घर वापस पहुंचा तो उसने अपने परिजनों को सारी बात बताई. जिस पर किशोर के बड़े भाई ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. मामला दो समुदायों के बीच का होने पर पुलिस तुरंत सक्रिय हो गई और भाई की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर मौलाना को पकड़ लिया. कोतवाल डीके सिंह ने बताया कि मौलाना नसीबउल्ला पर पीड़ित बालक के भाई द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर उसे पकड़ लिया गया है तथा कार्यवाई की जा रही है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं–

Share This Post