Breaking News:

अभेद्द होने वाली है बंगलादेश की सीमा… बंगलादेश से सटे हर राज्य के मुख्यमंत्रियों को गृहमंत्री का बुलावा

आज देश के लिए रोहिंग्या मुस्लमान बड़ा सिर दर्द बन गया है और ये देश के सीमांत इलाको से देश में नशीली दवाओं ,नकली नोटों ,गैरकानूनी गतिविधियों को

अंजाम दे रहे है। इनको रोकने के लिए भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह पूर्वी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। अब सरकार को भी लगने लगा हे कि

रोहिंग्या मुस्लमान देश के लिए खतरा है और इसलिए इन पर पाबंदी लगाना जरूरी है नहीं तो ये रोहिंग्या मुस्लमान देश में अपनी तादात बढा कर देश को निगल

सकता है।

बता दें कि कोलकता में 7 दिसंबर को गृहमंत्री राजनाथ सिंह पूर्वी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे और इस बैठक में मुददे होंगे रोहिंग्या और

बांग्लादेशियों का प्रवेश, नशीली दवाओं और फर्जी करेंसी की सीमा पार से तस्करी मुख्य होंगे। गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि “पश्चिम बंगाल, असम,

मेघालय, त्रिपुरा और मिजोरम के मुख्यमंत्री और गृहमंत्री एक दिन की बैठक के लिए जुटेंगे। इन्हीं राज्यों की सीमाएं बांग्लादेश से लगने के कारण रोहिंग्या और

बांग्लादेशी प्रवासी यही आते हैं।”

गौरतलब हैं कि इस बैठक में रोहिंग्या मुस्लमानो को रोकने के लिए विशेष चर्चा होगी और गृहमंत्री दवारा यह चौथी बैठक है। जिसमें अंतरराष्ट्रीय सीमाओं से लगे

राज्य शामिल होंगे। इससे पहले पाकिस्तान, चीन और म्यांमार से लगी सीमाओं वाले राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ तीन अलग-अलग बैठकें हुई थीं। गृह मंत्रालय

के अधिकारी ने बतया कि इस बैठक में फर्जी भारतीय मुंद्रा ,नशीली दवाओं और गैरकानूनी गतिविधियों को रोकने के लिए विशेष योजना बनाई जाएगी। सरकार इन

रोहिंग्यो पर करा कानून लगा कर इनको देश में बढ़ने के लिये रोक सकती है।

Share This Post