उत्तर प्रदेश पुलिस का गौहत्यारो को सन्देश जिसे सुनकर आप बोल पड़ेगे – “जय हिन्द सर”

उत्तर प्रदेश में बढ़ती गौ-तस्करी को देखते हुए और गौ-तस्करों के मंसूबों को रोकने के लिए यूपी के डीजीपी सुलखान सिंह ने एक काफी बड़ा और अहम फैसला लिया है। डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा कि गौ-तस्करी करने वालों के ऊपर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत मुकदमा दर्ज किया जाए। सूत्रों के अनुसार, डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा कि प्रदेश में बढ़ती गौ-तस्करी को रोकना बहुत जरुरी है।
इस काम के लिए अपराधियों पर एनएसए 1980 या फिर गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करना चाहिए। वहीं, इस कानून के अंतर्गत गौ-तस्करी के आरोपी को तीन महीने या फिर उससे ज्यादा के लिए हिरासत में रखा जा सकेगा। वहीं, एनएसए मामले के तहत दर्ज किए गए केस को लेकर राज्य सरकार को केंद्र सरकार इसकी जानकारी 7 दिन के अंदर देनी होगी।
क़ानून व्यवस्था को लेकर डीजीपी सुलखान सिंह ने बैठक बुलाकर पुलिस अधिकारियों को कई नए आदेश दिए। नए आदेश में पुलिस अधिकारियों को यह भी कहा गया है कि पुलिस अपराधियों-माफियाओं की बेल को रोकने के लिए कड़े प्रयास किया करें। उन्होंने आदेश दिए कि नोएडा और गाजियाबाद में पुलिसिंग दिल्ली से बेहतर होनी चाहिए। साथ ही ट्रैफिक व्यवस्था भी ठीक रखने और पुलिस अधिकारियों को पूरी वर्दी में होने की सख्त हिदायत भी दी गई है।

Share This Post