Breaking News:

तुम्हारी बहन में अब वो बात नहीं रही, आज नहीं तो कल कोई आएगा ही तुम्हारे लिए.. तो वो में क्यों नहीं.. नाबालिग साली के लिए जीजा के थे ये शब्द

आखिर ये कौन सी सोच है जो महिलाओं को सिर्फ भोग की वस्तु समझती है अपनी हवस में उनके जीवन को रौंद देती है? ये सोच कभी अपनी बेटी की उम्र की महिलाओं की इज्जत की प्यासी बन जाती है तो कभी मासूमों के जीवन को रौंद देती है? आखिर वो कौन सी सोच है जो अपनी हवस की भूख में सारे रिश्ते नातों तक की मर्यादा को भूल जाती है? आखिर ये सोच आती कहाँ से है तथा ये जानने के बाद भी कि उसको स्वयं एक महिला ने जन्म दिया है तथा उसके खुद के परिवार में भी महिलाएं हैं, ये सोच महिलाओं के साथ, यहाँ तक कि छोटी बच्चियों तक के साथ दुष्कर्म कैसे कर देती है?

लेकिन ऐसी दुराचारी सोच इरशाद सिद्दीकी के पास थी जिसके अपनी नाबालिग साली के साथ जबरन बलात्कार किया तथा उसकी इज्जत को तार-तार कर दिया. दुराचारी इरशाद सोच रहा था कि बलात्कार करने के बाद वो बच जाएगा लेकिन उसके अपराध से कहीं बड़े थे कानून के हाथ और उन्ही कानून के हाथों ने आखिरकार उसको जकड़ ही लिया और जनता की आशा है कि वही हाथ उसको तब तक नहीं छोड़ेंगे जब तक उसको मिल नहीं जाती वो सजा जिसका वो पात्र है . अपनी नाबालिग साली से दुष्कर्म मामले में आरोपी जीजा को मुंबई पुलिस ने रविवार को हिरासत में ले लिया है. पुलिस के मुताबिक अपनी नाबालिग साली का बलात्कार करने वाला दुराचारी 28 वर्षीय इरशाद सिद्दकी गुजरात में राजकोट का रहने वाला है. कुछ दिन पूर्व उसकी सास का एक रोड एक्सीडेंट में देहांत हो गया था. जिसके चलते वो अपनी पत्नी के साथ अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए अपनी ससुराल बांद्रा आया हुआ था.

बताया गया है कि घर में मौत हो जाने के बाद सेज संबंधी आये हुए थे. इसी बीच इरशाद ने मौका पाकर रात को सब लोगों के सो जाने के बाद अपनी पत्नी की छोटी बहन के साथ जबरन बलात्कार किया तथा किसी को बताने पर जान से मरने कि धमकी दी. सुबह होते ही इरशाद घर से भाग गया जिसके बाद नाबालिग पीडिता ने अपनी आपबीती अपने परिजनों को बताई तथा इसके बाद पुलिस को दुष्कर्म की जानकारी दी गई व आरोपी जीजा के खिलाफ मामला दर्ज कराया. अधिकारियों ने बताया की मुम्बई में सिद्दकी के मोजूद होने की गुप्त सूचना मिलने पर पुलिस ने अपना जाल बिछाकर आरोपी को आज उपनगरीय खार से हिरासत में ले लिया

Share This Post