Breaking News:

राम मंदिर के मुद्दे पर अब पीएम मोदी की सरकार अपनी योजनाओं को आगे बढ़ा सकती है : शिवसेना

मुंबई : सुप्रीम कोर्ट की राम मंदिर मुद्दे को कोर्ट के बाहर बातचीत से सुलझाने की सलाह के बाद ये मुद्दा एक बार फिर भारतीय राजनीति के केंद्र में हैं। बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना का मानना है कि इस समय देश के मुस्लिम पीएम की बात सुनने को तैयार है। इसलिए राम मंदिर के मुद्दे पर अब पीएम मोदी की सरकार अपनी योजनाओं को आगे बढ़ा सकती है। क्योंकि इस समय देश में ऐसा माहौल है कि मुस्लिम भी पीएम मोदी के पक्ष में हैं और उनकी बात सुनते हैं।

साथ ही शिवसेना के कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी की प्रचंड जीत दर्शाती है कि सभी पक्षों ने बीजेपी को वोट दिया है। इसका मतलब है कि लोगों की इच्छा है राममंदिर जल्द बनें। शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में लिखा है कि पिछले 25 साल में देश में राजनीति बदल गई है। भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी अब मार्गदर्शक मंडल में हैं जबकि देश पर पीएम मोदी का शासन है। इसलिए, राम मंदिर अब बनाया जाना चाहिए और इसके लिए उच्चतम न्यायालय के नहीं, मोदी के निर्देश की जरूरत है।

शिवसेना ने कहा कि भाजपा को उत्तर प्रदेश में बड़ी जीत मिली जो दिखाता है कि लोगों की आकांक्षा है कि राम मंदिर बने। लोग आस्था के नाम पर ऐसा चाहते हैं और इसलिए उच्चतम न्यायालय को इस मामले में दखल नहीं देना चाहिए। आज पूरा देश मोदी की बातें सुनता है और माहौल ऐसा है कि मुस्लिम भी उनकी बातें सुनेंगे। शिवसेना ने कहा कि उच्चतम न्यायालय इस मुद्दे पर एक स्पष्ट फैसला दे सकता है।

Share This Post