Breaking News:

संक्रमित होती देवभूमि… हल्द्वानी में स्कूल जाती 6 वर्षीय मासूम को घर में खींच लेता था वसीम और खेलता था उसके नाजुक अंगों से

गंगा की गोद, हिमालय की छाया, देवों के धाम, प्राकृतिक सौन्दर्य, आध्यात्मिक साधना के केंद्र तथा पर्यटन के लिए दुनियाभर में विख्यात उत्तराखंड पर आसुरी शक्तियों की छाया पड़ने लगी है. देवभूमि उत्तराखंड अब मजहबी उन्मादी संक्रमण की चपेट में आने लगा है जहाँ आये दिन कभी लव जिहाद तो कभी उन्मादी मानसिकता से ग्रसित लोग नारी वर्ग की आबरू को कुचल रहे हैं. जो उत्तराखंड अपनी संस्कृति, सभ्यता, अध्यात्म के दुनिया भर में विख्यात है वहां इस तरह सी शर्म को भी शर्मशार करने वाली गतिविधियाँ निश्चित रूप से बेहद ही चिंताजनक हैं तथा त्तराखंड की सरकार और वहां के वासियों के लिए आत्ममंथन का विषय हैं.

मजहबी संक्रमण का ऐसा ही एक मामला उत्तराखंड के नैनीताल जनपद के हल्द्वानी से सामने आया है जहाँ के बनभूलपुरा क्षेत्र में एक दुकानदार ने छह साल की मासूम के साथ दुष्कर्म किया तथा मुंह खोलने पर उसने बच्ची को जान से मारने की धमकी दी. चार दिन बाद बच्ची जब स्कूल जाते वक्त रोने लगी तो परिजनों के पूछने पर उसने दरिंदे की करतूत बयां की. इसके बाद परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी दुकानदार के खिलाफ धारा 376, पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया.

खबर के मुताबिक, दूसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची मंगलवार को स्कूल जाते समय अचानक रोने लगी. मां ने कारण पूछा तो उसने बताया कि लाइन नंबर पांच निवासी दुकानदार वसीम उसे रास्ते में पकड़ लेता है और एक निर्माणाधीन मकान में ले जाकर उसके साथ घिनौनी हरकत करता है. आठ फरवरी को उसने बच्ची को अपनी हवस का शिकार बना लिया. मासूम ने जब मम्मी पापा से शिकायत करने की बात कही तो दुकानदार ने परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी.

मासूम बच्ची की आपबीती सुनकर उसके माता पिता के पैरों तले जमीन खिसक गई. इसके बाद बच्ची के  बच्ची को लेकर मंगलवार शाम थाने पहुंचे तथा मामला दर्ज कराया. महिला पुलिसकर्मियों ने बच्ची से घटना के बाबत पूछताछ की तथा इसके बाद मामला दर्ज कर लिया. थानाध्यक्ष ने बताया कि पुलिस की तीन टीमें आरोपी की तलाश कर रहीं हैं तथा जल्दी आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Share This Post