Breaking News:

मोदी जी में क्षमता थी इसलिये प्रधानमंत्री बनें, मुझ में वो क्षमता नहीं

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सत्ता में
आने पर उनके
 2019 में
प्रधानमंत्री बनने को लेकर बयानबाजी चलती ही रहती है। लेकिन नीतीश कुमार ने इस बात
पर खुद कहा है कि
, “मैं 2019 के लिए
प्रधानमंत्री पद का दावेदार नहीं हूं. मेरी पार्टी छोटी है. जिसमें क्षमता होगी
, वह प्रधानमंत्री होगा. पांच साल पहले किसने सोचा
था कि मोदी प्रधानमंत्री होंगे. लेकिन जनता को उनमें क्षमता दिखी और आज वह
प्रधानमंत्री हैं. जिसमें क्षमता होगी वह
2019 में आगे
आएगा.”

नीतीश कुमार ने कहा है कि , ‘ मेरे बारे में
व्यक्तिगत आकांक्षा दिखाकर तरह-तरह की बात की जाती है. शरद जी अध्यक्ष नहीं बन
सकते थे
, हम पार्टी के अध्यक्ष बन गए तो इसे मेरे
राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा के तौर पर देखा जाने लगा.


आगे  नीतीश कुमार ने
लालु यादव पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपो के बारे में कहा कि
, ‘लालू
यादव परिवार पर बीजेपी ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। लालू जी इसका जवाब भी दे
चुके हैं। अगर किसी के पास कोई तथ्य है तो उन्हें कोर्ट में जाना चाहिए।
सीएम ने कहा है कि बीजेपी और सुशील द्रारा
लगाये गये आरोपो मे बीच मे कुछ नही बोलूंगा।

बता दें कि लालू यादव की संपत्ति पर
पहले नीतीश कुमार बोले, कि उन्हें इस मुद्दे पर कुछ नही बोलना है। क्योंकि दूसरे
पक्ष पर भी आरोप लगाये जा रहे है और इधर उधर उनका दिमाग भटकाने की कोशिश कर रहे है
यह सब बहुत अच्छे कर रहे है. भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी जो आरोप लगा रहे है उसका
जवाब लालू खुद अपने शब्दो में दे रहे है.. इसमें किसी और को दखल अंदाजी करने की
जरुरत नही है.  भाजपा को लगता है कि अख़बार
में चूंकि रोज रोज पब्लिसिटी मिल जाती है
. बिहार में सत्ता
की साझेदार आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद और उनके परिवार की कथित अवैध संपत्तियों
को लेकर हमलावर बिहार बीजेपी ने इन मामलों में सीएम नीतीश की चुप्पी पर कई बार
सवाल उठाए.

 

Share This Post