“संघ से सीखो कांग्रेसियो” शब्द बोलकर अपनी ही पार्टी में तूफ़ान खडा कर दिया इस कद्दावर कांग्रेसी नेता ने


कांग्रेस पार्टी हमेशा से आरएसएस की मुखर आलोचक रही है. कांग्रेस पार्टी के वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी तो हर रोज rss पर हमला बोलते हैं तथा आरएसएस की आलोचना करते रहती हैं. ऐसे में अगर कोई कांग्रेसी नेता आरएसएस की तारीफ़ करे तथा कांग्रेस को आरएसएस  से सीख लेने की बात कहे तो शायद ही ये बात किसी को हजम होगी. लेकिन एक कद्दावर कांग्रेस नेता ने सब्घ की तारीफ की है तथा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संघ से सीख लेने की प्रेरणा भी दी है.

आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बेहद करीबी माने जाने वाले मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी दीपक बाबरिया ने RSS को लेकर ऐसा बयान दे दिया है, जिससे कांग्रेस ही असहज हो गई है. दीपक बाबरिया ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को आरएसएस से अनुशासन सीखना चाहिए. दरअसल, विदिशा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की अनुशासनहीनता का शिकार हुए दीपक बाबरिया ने कार्यकर्ताओं के सम्‍मेलन में यह बात कही. उन्होंने कहा कि आरएसएस के अच्छे पहलुओं की तारीफ करने में कोई संकोच नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि पं नेहरू ने भी संघ के अनुशासन का प्रयोग चीन के साथ हुए युद्ध में किया था.

दीपक बाबरिया के इस बयान के बाद कांग्रेस असहज स्थिति में आ गई. प्रदेश कांग्रेस के मीडिया सेल के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने दीपक बाबरिया के इस बयान पर कहा कि उन्हें आरएसएस के बारे में सही जानकारी नहीं है और नेहरू जी ने कभी आरएसएस का उपयोग नहीं किया. दीपक बाबरिया के बयान से ये तो साफ़ है कि राहुल गांधी आरएसएस के बारे में चाहे कुछ भी कहें लेकिन गाहे बगाहे कांग्रेस के अंदर से ही आरएसएस को ऐसे बयान आ ही जाते हैं जिससे खुद कांग्रेस तथा राहुल गांधी की भी फजीहत होती है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share