बेटी के बलात्कारी समीर खान को भूली नहीं थी वो मां… पुलिस वाले भी पीछे रह गये उस माँ का प्रतिशोध देखकर

एक नाबालिग बच्ची के साथ समीर खान नामक बहसी दरिन्दे ने बलात्कार जैसी घटना को अंजाम दिया तो इसके बाद भी बलात्कार पीडिता की माँ ने धैर्य नहीं खोया बल्कि दुराचारी समीर खान को पकड़वाने के लिए जो तरीका अपनाया, जिस दिमाग तथा बुद्धिमानी से समीर खान की गिरफ्तारी कराई, उसे देखकर पुलिस भी दंग रह गयी. बलात्कार पीडिता की मां ने  २२ वर्षीय दुराचारीसमीर खान को अपने जाल में फंसाकर पुलिस के हवाले कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने भी महिला एके हिम्मत को सैल्यूट किया.

मामला मध्यप्रदेश के भोपाल का है. भोपाल के श्यामला हिल्स पुलिस स्टेशन के इंचार्ज बीपीएस बैंस ने बताया कि 14 वर्षीय पीड़िता कक्षा 9 की छात्रा है. दर्जी की दुकान चलाने वाला बच्ची का पड़ोसी समीर खान उसका पीछा करता था. समीर खान ने कथित तौर पर बच्ची को अपनी बाइक पर लिफ्ट ऑफर की, पहले तो उसने मना किया लेकिन बाद में जब समीर खान ने जोर देकर कहा तो वह मान गई. कुछ दिन तक ये सब यूं ही चलता रहा. पुलिस ने बताया कि 22 जुलाई को खान पीड़िता को केरवा बांध के पास ले गया और एक सुनसान जगह पर और उसके साथ दुष्कर्म किया. आरोपी खान ने पीड़िता को धमकी भी दी कि अगर उसने किसी को कुछ बताया तो उसे इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.

घर आकर पीड़िता ने हिम्मत करके अपनी मां को पूरी बात बताई. इसके बाद पीड़िता की मां ने आरोपी समीर खान को पकड़ने का प्लान बनाया. अगले दिन पीड़िता की मां ने जानबूझकर अपनी बेटी से समीर से लिफ्ट लेने को कहा. जब पीड़िता ने समीर खान से से लिफ्ट ली तो वह उसे श्यामला हिल्स की एक सुनसान जगह पर ले गया और उसे छेड़छाड़ शुरू कर दी. पीडिता की माँ ने 100 नंबर पर पुलिस को पहले ही सूचित कर दिया था. जैसे ही समीर ने पीडिता के साथ दोबारा से दुराचार का प्रयास किया, तभी पीड़िता की मां और उसकी बड़ी बहन खान की बाइक का पीछा करते हुए वहां पहुंची और आरोपी को रंगे हाथ पकड़ लिया. तब 100 नंबर पुलिस भी पहुँच गयी तथा दुराचारी समीर को रंगेहाथों पकड लिया. पुलिस ने बताया कि खान के खिलाफ अपहरण, छेड़छाड़, पॉस्को एक्ट और बलात्कार की धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है.

Share This Post