Breaking News:

उन्होंने कहा हम सेमीनार करेंगे जिन्ना पर.. कुलपति ने मना किया तो शुरू कर दिया बवाल ठीक अलीगढ़ जैसा.. ये वही पार्टी है जो चुनाव लड़ रही है कर्नाटक में

AMU में भारत के बंटवारे के जिम्मेदार कट्टरपंथी मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर पर मचा विवाद शांत होता नजर नहीं आ रहा है तथा इस बहाने देश के अंदर बैठे हुए पाक परस्त जिन्ना समर्थक लोग भी बेनकाब हो रहे हैं. जिन्ना का विवाद अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से अब इंदौर पहुंच गया है. इंदौर की नामी यूनिवर्सिटी में जिन्ना पर सेमीनार की अनुमति न दिए जाने पर शहर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भयंकर उत्पात मचाया. कांग्रेस पार्टी जो दावा करती है कि वह देश की अखंडता की पक्षधर है तथा देश की आजादी की ठेकेदारी लेती भी नजर आती है लेकिन कांग्रेस का ये इंदौर में उसके कार्यकर्ताओं से खोखला साबित कर दिया है.

दरअसल, इंदौर की देवी अहिल्या विश्वविद्यालय में शहर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कुलपति से जिन्ना पर सेमिनार करवाने की अनुमति मांगी थी. कुलपति ने जब उन्हें अनुमति नहीं दी तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर बवाल काटा. कांग्रेस कार्यकर्ताओं के VC पर भारतीय जनता पार्टी के दवाब में कार्य करने का आरोप लगाया. लेकिन फिर भी वक ने जिन्ना पर सेमीनार की अनुमति नहीं दी तो दोबारा से उत्पात शुरू कर दिया.

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के हंगामे के विरोध में बीजेपी अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने कुलपति नरेंद्र धाकड़ से मुलाकात की.. ये सभी कार्यकर्ता कांग्रेस नेताओं के जिन्ना पर सेमिनार करवाने की मांग का विरोध कर रहे थे. BJP कार्यकर्ताओं ने VC मांग की कि देशद्रोहियों को यूनिवर्सिटी में घुसने पर रोक लगाई जाए क्योंकि जिन्ना पर सेमीनार देशद्रोही लोग ही कर सकते हैं. उन्होंने कुलपति को ज्ञापन देकर किसी भी तरह की नाजायज मांग नही मानने की बात कही. कुलपति ने उन्हें विश्वास दिलाया कि कि यूनिवर्सिटी का महल ख़राब नहीं करने दिया जाएगा तथा जिन्ना के नाम पर कोई सेमीनार आयोजित नहीं हो सकता है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW