कमलेश के बाद अमर हुआ अमरेश.. दिवाली में काट डाला गया तलवार से


जिस तरह से मजहबी उन्मादियों द्वारा हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी का क्रूरतम तरीके से क़त्ल कर दिया गया था, ठीक उसी तरह से अमरेश को दिवाली की रात तलवार से काट डाला गया. दिवाली का जश्न मनाने पर अमरेश का क़त्ल कर दिया गया. मामला ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर की एयरफील्ड पुलिस सीमा के तहत आने वाले सुंदरपाड़ा इलाके का है जहाँ दीवाली की रात पटाखे चलाने पर अमरेश नायक की तलवार के काटकर ह्त्या कर दी गई.

दिवाली की रात देश के अन्य भागों की तरह भुवनेश्वर में भी धूमधाम थी. शाम को पूजा-पाठ करने के बाद लोग पटाखे फोड़ रहे थे. सुंदरपाड़ा इलाके के बीडीए कॉलोनी में रहने वाला अमरेश नायक भी भी अपने दोस्तों के साथ दिवाली की रात पटाखे फोड़ रहा था. उसी वक्त कुछ लड़कों का ग्रुप वहां आ पहुंचा और पटाखे फोड़ने का विरोध करने लगा. युवकों का समूह अमरेश और उसके दोस्तों को पटाखे फोड़ने से रोक रहा था, लेकिन वे लोग ऐसा करने से इनकार कर रहे थे. अमरेश ने कहा कि दिवाली का त्यौहार है तो हम पटाखे फोड़ रहे हैं, आप हमें कैसे रोक सकते हैं.

इसके बाद अमरेश तथा उसके दोस्तों को पटाखे चलाने से रोकने वाले लोग भड़क उठे तथा उन पर हमला बोल दिया. इसी दौरान अमरेश पर तलवार से हमला किया गया जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया. गंभीर रूप से घायल अमरेश को भुवनेश्वर के कैपिटल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. फिलहाल पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुटी हुई है. हमला करने वाले कौन थे, इसकी कोई पुष्ट जानकारी अभी नहीं मिल सकी है, लेकिन दोस्तों की निशानदेही पर पुलिस अमरेश की हत्या के आरोपियों की तलाश कर रही है. पुलिस का कहना है कि जल्द ही वे आरोपियों को पकड़ लेंगे.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share