बजरंग दल के प्रखंड संयोजक को गोलियों से भूना गया.. नफरत इतनी कि मारी 9 गोलियां

कांग्रेस शासित राजस्थान के शेखावाटी अंचल के चूरू जिले का सादुलपुर कस्बा उस समय गोलियों की गूंज से दहल उठा जब राज्य में बेलगाम अपराधियों ने बजरंग दल के प्रमुख कार्यकर्ता व प्रखंड संयोजक सुरेन्द्र जडिया को गोलियों से भून डाला. अफ़सोस की बात ये है कि दुलपुर कस्बे में पुलिस थाने से महज कुछ ही दूरी पर बदमाशों ने सुरेन्द्र जडिया पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं. सुरेन्द्र जडिया ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय करते थे.

जमीन कब्ज़ा कर के जबरन नमाज़ पढ़ने की आग में झुलस गया बंगलादेशी दरिंदो के बोझ तले दबा असम.. उतरी पैरामिलिट्री

बजरंग दल के प्रखंड संयोजक सुरेन्द्र जडिया से अपराधियों की नफरत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्हें 9 गोलियां मारी गईं. आरोपियों का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है. इसके बाद शुक्रवार को सुबह आक्रोशित लोगो ने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर बहल मोड़ पर सड़क पर जाम लगा दिया, जिससे पुलिस के हाथ-पांव फूल गए. पुलिस प्रशासन ने लोगों से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया.

भोजपुरी एक्टर निरहुआ के साथ उतरे और भी भोजपुरी कलाकार.. अखाड़ा बना आज़मगढ़

बताया गया है कि वारदात थाने से कुछ ही दूरी पर स्थित गणगौरी चौक के पास हुई. हमलावरों ने 38 वर्षीय सुरेन्द्र पर अंधाधुध फायरिंग की, जिससे उसके सिर, पेट और हाथ व पैर में गोलियां लगने से मौके पर ही मौत हो गई. बताया जा रहा है कि हमलावरों ने एक दर्जन से भी अधिक गोलियां चलाई, जिनमें से नौ गोलियां सुरेन्द्र के लगी. बाइक पर आए नकाबपोश तीन चार बदमाशों ने इत्मीनान से इस वारदात को अंजाम दिया और बाद में फरार हो गए. हत्या की दिल दहला देने वाली यह वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. मौके से पुलिस को कारतूस के खोल व एक मैगजीन मिली है तथा पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.

गरीब मजदूर समझ कर घर का काम करवाने ले आई थी वो आकिल, अब्दुल और शनीफ़ को..उसे नही पता था कि आगे क्या होगा

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post