पहले दोस्त के साथ मिलकर कसाई सादिक ने गला दबाकर की पत्नी की ह्त्या, फिर बोटी-बोटी काटा महिला को.. उसकी गलती सिर्फ ये थी

मध्यप्रदेश के महू एक महिला की दर्दनाक तरीके से ह्त्या का मामला सामने आया हैं, जिसकी उसी के पूर्व पति सादिक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर क्रूरतम तरीके से ह्त्या की. सादिक का दोस्त महिला के साथ दुष्कर्म करना चाहता था. महिला के इंकार करने पर गला घोंटकर ह्त्या कर दी. इसके बाद सादिक ने दरिंदगी की सारी हदें पार करते हुए महिला के शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर दिए. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के अनुसार चंदननगर निवासी 27 वर्षीय रुख्सार की शादी आठ साल पहले हम्माल मोहल्ला निवासी सादिक के साथ हुई थी. दोनों के एक बेटा पैदा हुआ. इसके बाद सादिक व रुख्सार के बीच तलाक हो गया. इसके बाद दोनों को ही नशे की लत लग गई. एक अक्टूबर को रुख्सार व सादिक की मुलाकात हुई. दोनों ने साथर में ब्राउन शूगर का नशा किया. अधिक नशा करने के बाद सादिक उसे हम्माल मोहल्ले में अपने एक परिचित के घर ले गया, जहां सादिक व उसके साथी ने उससे शरीरिक संबंध बनाने की आपस में बात की.

सादिक के परिचित ने महिला से संबंध बनाने की कोशिश की तो रुख्सार ने इनकार कर दिया. गुस्से में आकर उसने उसका गला दबाकर हत्या कर दी. जिस पर सादिक ने साथी से कहा कि तूने इसको मार दिया. सादिक जो कसाई भी है, उसने कहा, अब मैं शव के टुकड़े कर देता हूं, जिसे ठिकाने तुझे लगाना होगा. रात में सादिक ने महिला के पैर, गर्दन व हाथ काटे, जिसे सुबह चार बजे झोले में ले जाकर उसके साथी ने अलग-अलग स्थानों पर फेंका. धड़ को अगले दिन ठेले पर ले जाकर उत्तम गार्डन के सामने झाडिय़ों में फेंक दिया.

पुलिस को इस जघन्य हत्याकांड में सबसे महत्वपूर्ण सुराग सुरखी गली के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग से मिला, जहां नाली में महिला के कटे हुए पैर मिले थे. यहां कैमरे की रिकॉर्डिंग में सुबह चार बजे सादिक का दोस्त हाथ में एक थैली लेकर जाता दिखा. दो मिनिट बाद वापस आया तो थैली हाथ में नहीं थी. इसके बाद सादिक के दोस्त को पुलिस ने हिरासत में लिया और सख्ती से पूंछताछ की. पहले तो उसने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की लेकिन पुलिस की सख्ती से वह टूट गया.

इसके बाद उसने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल कर लिया तथा बताया कि किस तरह सादिक ने उसके साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया था.रविवार को अनूप से पूछताछ की तो उसने जिस स्थान पर धड़ फेंका था, उसकी तस्दीक की. जिस पर एसडीओपी विनोद शर्मा, टीआई योगेशसिंह तोमर सहित पुलिस बल उसे लेकर उत्तम गार्डन के सामने झाडिय़ों में पहुंचे. जहां महिला का धड़ थैले में बंधा हुआ मिला. इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल लाया गया वहीं सादिक  उसके साथी के खिलाफ कानूनी कार्यवाई की  प्रक्रिया शुरू कर दी गई.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे लिंक पर जाएँ –

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW