जिस इमाम और काजी ने मोदी की तारीफ़ की थी, अब उसकी मौत का हो रहा एलान.. श्रीलंका, म्यांमार में पस्त उन्मादी भारत में बेकाबू

ये कथित सेक्यूलरिज्म का नया रूप है जहाँ एक इस्लामिक काजी तथा इमाम प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ नहीं कर सकते हैं. अगर काजी तथा इमाम ने पीएम मोदी की तारीफ़ की तो इस्लामिक कट्टरपंथी उनकी ह्त्या करने पर उतारू हो जाते हैं. मामला उत्तर प्रदेश के पीलीभीत का है जहाँ एक काजी और एक इमाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करने पर जान से मारने की धमकी मिली है.  सवाल खड़ा होता है कि आखिर ये कौन सी सोच है जो अपने देश के सर्वोच्च नेता की तारीफ को भी “वाजिब उल कत्ल” मानती है? आखिर इन कट्टरपंथियों र कब काबू पाया जा सकेगा?

मौत की धमकियां मिलने के बाद काजी तथा इमाम ने पीलीभीत कोतवाली पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है. शिकायत के आधार पर कोतवाली पुलिस ने चार नामजद व पांच अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच प्रारम्भ कर दी है. पुलिस का कहना है कि काजी मौलाना जरताब रजा खां और मस्जिद के इमाम हाफिज इसरार को पहले किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया और जान से मारने की धमकी दी.

पुलिस का कहना है कि कुछ लोगों ने उनके समर्थक तबरेज को रोककर गाली-गलौच भी की. सीओ सिटी धर्म सिंह मर्छयाल के मुताबिक धमकी देने वालों ने फोन पर कहा कि वह काजी और मस्जिद के इमाम को ईद से पहले जान से मार देंगे. हालांकि उन्होंने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और धमकी देने वालों की तलाश जारी है.

Share This Post