Breaking News:

“7 जन्म का रिश्ता बनाना है , 3 शब्दों में खत्म हो जाने वाला नहीं” . यह कह कर हिन्दू लड़के से कर ली शादी

हर दिन , एक नई कहानी . वो तोड़ कर आज़ाद होना चाह रही अपने पैरों में बंधी बेड़ियों को . उनके हिसाब से अब और नहीं .

बागपत की घटना है जहाँ एक प्रसिद्ध गाँव फौलाद नगर है . यहाँ 3 तलाक से डरी और बुरी तरह से सहमी एक मुस्लिम लड़की ने अपने ही गाँव के हिन्दू लड़के के साथ विवाह कर के 3 तलाक के खिलाफ अपनी जंग का एलान कर दिया . बागपत की लड़की अपने हिन्दू पति के साथ गाजियाबाद के आर्य समाज मंदिर में पहुंची और विधिवत वैदिक रीति रिवाज़ से शादी रचा ली . विवाह कर के ये नवविवाहित जोड़ा सीधा अदालत पंहुचा जहाँ ये अदालत से अपने लिए सुरक्षा और समाज में सर उठा कर जीने का अधिकार माँगना चाह रहे थे .


लड़की के घर वालों को पहले से ही भनक लग चुकी थी इस बात की और वो झुण्ड बना कर अदालत के गेट पर खड़े थे .. जैसे ही लड़की अपने पति के साथ अदालत के अंदर पहुंची वैसे ही लड़की के परिजनों ने कश्मीरी अंदाज़ में उस पर व् उसके पति पर पथराव कर दिया . इस घटना में लड़की का पति बुरी तरह घायल हुआ पर लड़की ने अपने पति की रक्षा के लिए लोगों से जैसे ही गुहार लगाईं तो वहां भीड़ जमा हो गयी और दोनों को बचा कर अदालत ले गयी . 


लड़की यही नहीं रुकी , उसने फ़ौरन पुलिस बुलाई और अत्याचार पर उतारू अपने घर वालों को अपने व अपने पति के ऊपर जानलेवा हमला करने के अपराध में गिरफ्तार करा दिया . अदालत में पहुंच कर नवविवाहित जोड़े ने अपनी रक्षा की गुहार लगाईं जिसके बाद उनके निवेदन पर उन दोनों को पुलिस सुरक्षा में दिल्ली छोड़ दिया गया . लड़की ने कहा कि उसे ख़ुशी है कि उसने 7 जन्मो का रिश्ता बनाया है , वो संबंध नहीं जो 3 शब्दों में खत्म हो जाए . लड़की के अनुसार वो अपनी नई जिंदगी में बेहद खुश है .


माना जा रहा है कि 24 मार्च को लड़की मुसलमान से हिन्दू बन गयी थी और 25 मार्च को ही उसने आर्य समाज मंदिर में विधिवत वैदिक मंत्रोच्चार के बीच हिन्दू लड़के से शादी कर ली थी . 

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW