पूरे भारत में निकल रहे छिपे हुए गद्दार.. बिहार के गोपालगंज में वीरों के बिलदान पर खिलखिला रहा था मजहर हाशमी जिसके बाद उबल पड़ा समाज

पुलवामा आतंकी हमले के बाद एक बात एक बार पुनः साबित हो गई है कि अगर हिंदुस्तान को किसी से सबसे ज्यादा खतरा है तो वह घर के उन गद्दारों से हैं जो हिंदुस्तान का खाते हैं, कमाते हैं लेकिन गुण पाकिस्तान का गाते हैं. यही वो लोग हैं जिनकी शह पर नापाक मुल्क पाकिस्तान हिंदुस्तान को आँख दिखाने की कोशिश करता है. पुलवामा आतंकी हमले के बाद एकतरफ जहाँ पूरा शोकाकुल है तो वहीं दूसरी तरफ देश के विभिन्न क्षेत्रों से ऐसे गद्दार भी सामने आ रहे हैं जो हमारे जवानों की शहादत का जश्न मना रहे हैं.

ऐसा ही एक मामला बिहार के गोपालगंज से सामने आया है जहाँ मजहर हाशिमी नामक गद्दार मजहबी उन्मादी युवक ने पुलवामा में 40 से ज्यादा जवानों के बलिदान का जश्न मनाया तथा सोशल मीडिया पर बेहद की आपत्तिजनक टिप्पणी की. जैसे ही टिप्पणी लोगों ने देखी तो उनका गुस्सा उबल पड़ा. सूचना मिलने पर पुलिस के हाथपांव फूल गये तथा आनन फानन में उन्मादी मजहर हाशिमी को गिरफ्तार कर लिया.

जानकारी के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक फिदायिन हमले में सीआरपीएफ के जवानों के बलिदान होने के बाद गोपालगंज के बथुआ बाजार निवासी मजहर हाशमी ने सोशल मीडिया फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. इसके बाद सूचना मिलने पर गोपालगंज पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए श्रीपुर ओपी थाने के भानपुर सवनहीपट्टी गांव से मजहर हाशमी को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार युवक से पुलिस के वरीय अधिकारी सघन पूछताछ कर रहे हैं. युवक की गिरफ्तारी की पुष्टि स्वयं एसपी ने की है. हाशिमी की गिरफ्तारी के बाद सुरक्षा एजेंसियां इस मामले को लेकर जांच में जुटी है.

Share This Post