Breaking News:

छत्‍तीसगढ़ में नक्सली गिरफ्तार कर भेजे गए जेल, कई वारदातों को दिया था अंजाम…

रायपुर : छत्‍तीसगढ़ के सुकमा जिले में अलग-अलग जगहों से 19 माओवादियों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए नक्सलियों में से नौ पर बुरकापाल हमले में शामिल होने का आरोप है।

नक्सलियों में कुंजामी हुर्रा, कुंजाम हिड़मा, मुचाकी मंगड़ू, मुचाकी जोगा, कुंजामी हड़मा, बंजामी हिड़मा, शंकर मंडावी, मुचाकी हिड़मा, मुचाकी कोसा व मुचाकी मासा, सोढ़ी लिंगा, सोढ़ी मुडा, पोडियामी जोगा, मड़कम भीमा, रावा आयता, मड़कम सोमडू, वेट्टी माला, मुचाकी नंदा और माडवी कोसा शामिल हैं।

इस मामले में पुलिस के मुताबिक, पूछताछ के दौरान 19 में से 9 ने सुकमा हमले में शामिल होने की बात कबूल की है। वहीं, एक अन्य ऑपरेशन में 10 अन्य माओवादी भी कुकानर से गिरफ्तार किए गए हैं। इन्हें सीआरफीए, डीआरजी और जिला पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन के जरिए गिरफ्तार किया गया है।

इन 10 माओवादियों ने 10 फरवरी को राष्ट्रीय राजमार्ग 30 पर जगदलपुर और सुकमा के बीच पुलिस गश्ती दल पर हमला करने के साथ ही दो ट्रकों में आग लगा दी थी। इसके साथ ही पकड़े गए नक्सली इस साल 26 फरवरी को एनएच 30 पर पालेम गांव के पास दो ट्रकों में आगजनी करने व राहगीरों से लूटपाट करने के अलावा कटेकल्याण और कांगेर घाटी एरिया कमेटी में सक्रिय नक्सली साथ मिलकर अन्य वारदातों को अंजाम देते रहे हैं।

इस मामले पर अधिकारियों का कहना है कि सभी गिरफ्तार नक्सलियों को आज स्थानीय अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। गौरतलब है कि 24 अप्रैल को सीआरपीएफ के 25 जवान सुकमा के बुरकापाल क्षेत्र में माओवादी हमले में वीरगति को प्राप्त हो गए थे। 

Share This Post