योगी शासित यूपी का मेरठ बना कैराना.. मजहबी उन्मादियों के खौफ से पलायन को मजबूर हिन्दू.. फिर भी वो डरा हुआ है

कथित बुद्धिजीवी तथा सेक्यूलर राजनेता व खान मार्केट गैंग एक स्वघोषित निराधार थ्योरी गढ़ती हुई नजर आई है कि देश में मुसलमान डरा हुआ है, मुस्लिमों पर हमले किये जा रहे हैं, उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है. इसे लेकर तमाम तरह के कुतर्क गढ़ने की नापाक कोशिशें 2014 से ही की जाती रही हैं. लेकिन इसकी हकीकत क्या है, इसकी बानगी उत्तर प्रदेश के मेरठ में देखने को मिल रही है जो अब कैराना बनता हुआ नजर आ रहा है.

सेक्यूलर ममता बनर्जी शासित प. बंगाल से गिरफ्तार हुए 4 बांग्लादेशी आतंकी.. सामने आ रहे शरण देने के दुष्प्रभाव

कैराना का नाम तो आप सभी ने सुना ही होगा. वही कैराना जो पश्चिमी उत्तर प्रदेश का में स्थित है तथा जहाँ से मजहबी उन्मादियों के कहर से भयभीत होकर हिन्दुओं के पलायन का मामला सामने आया था तो देशभर की सियासत में भूचाल आ गया था. जिस तरह से मजहबी उन्मादियों ने कैराना से हिन्दुओं को पलायन के लिए मजबूर किया था, ठीक वैसी ही स्थिति उत्तर प्रदेश के ही मेरठ में बन रही है, जहाँ मजहबी उन्मादियों के भय से हिन्दू पलायन करने को मजबूर रहे हैं तथा उन्होंने अपने घरों पर “यह मकान बिकाऊ है” के पोस्टर लगाये हैं.

हबीबुर्रहमान उड़ा देना चाहता था उस ट्रेन को, जिसमें 8 दिन के बच्चे से लेकर 80 साल के वृद्ध तक सफ़र करते थे

प्राप्त हुई जानकारी के मुताबिक़, मेरठ शहर के बीच में स्थित लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र अंतर्गत मुस्लिम बहुल प्रह्लादनगर में बहुसंख्यक वर्ग के 425 परिवारों में से करीब 125 परिवार अपना मकान बेचकर पलायन कर चुके हैं. नमो एप पर इसकी शिकायत के बाद शासन-प्रशासन अचानक सक्रिय हो उठा है. इनमें से अधिकांश मकानों की खरीद-बिक्री बीते पांच-छह वर्ष के भीतर हुई है. जानकारी मिली है कि कि यहां के वाशिंदे मुस्लिम समुदाय के लोगों के खौफ के कारण उन्हें ही औने-पौने दाम पर मकान बेचकर अन्यत्र जाने को मजबूर हैं. यहां कई मकानों व प्लाट के गेटों पर अभी भी बिकाऊ लिखा हुआ है.

आम के बाग़ में महिला का गैंगरेप.. 3 दरिंदों में एक का नाम शाहिद अंसारी

पलायन के संबंध में स्थानीय बीजेपी नेता व बूथ अध्यक्ष भवेश मेहता ने 11 जून को नमो एप पर पूरे प्रकरण की जानकारी देते हुए मदद की गुहार लगाई गई थी. पीएमओ से 11 जून को ही (ऑनलाइन) यूपी के मुख्यमंत्री कार्यालय को इस बारे में उचित कदम उठाने के लिए कहा गया है. स्थानीय महिलाओं का आरोप है कि स्टंटबाजी, फायरिंग, बहुसंख्यक समाज की महिलाओं से छेड़छाड़, पर्स, चेन, मोबाइल और कीमती सामान की लूटपाट होने लगी थी. विरोध करने पर मारपीट हो रही थी. लोगों का ये भी आरोप है कि उनके घर के सामने आपत्तिजनक चीजें भी फेंकी जा रही थीं. इस कारण से उनका जीना दुश्वार हो गया था.

28 जून: जन्मजयंती महान दानवीर भामाशाह .. महाराणा प्रताप के बलिदान के साथ इनका दान अनंत काल तक अमर रहेगा

पलायन को मजबूर हिन्दुओं का कहना है कि यहां का माहौल अब रहने लायक नहीं रहा. लोग अपने घर बेचकर दूसरी जगह पर जा रहे हैं. शाम को ऐसा माहौल हो जाता है कि बहू बेटी घर से नहीं निकल सकती. युवक बाइक से हवाई फायरिंग करके भाग जाते हैं. मामला संज्ञान में आने के बाद मुख्यमंत्री कार्यालय ने मेरठ के जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है.

बलात्कार के समान है हलाला, मोदी से निवेदन है कि बहु विवाह और हलाला को तत्काल क़ानून बना कर खत्म करें – स्वाति मालीवाल

कल जब सुदर्शन की टीम मौके पर पहुँची तथा स्थिति का जायजा लिया तो जानकारी सामने सामने आई वो रौंगटे खड़े कर देने वाली है. सुदर्शन की टीम से बात करते हुए स्थानीय हिन्दू समुदाय के लोगों ने बताया कि  पुलिस से छेड़छाड़, स्टंटबाजी और फायरिंग की शिकायत भी की गई लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई. उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया तथा उन्मादियों के हौसले बढ़ते चले गये. एक क स्थानीय महिला ने बताया कि आए दिन बाइक सवार युवक घर की बेटियों से छेड़छाड़ करते हैं. यही वजह है कि लोग औने-पौने दाम पर घर बहककर जा रहे हैं.

जनसंख्या नियंत्रण क़ानून के लिए सफलता की तरफ सुरेश चव्हाणके जी का अथक प्रयास.. उत्तराखंड सरकार ने पंचायत चुनाव में लागू किया इसे

स्थानीय बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल प्रह्लाद्नगर इलाके से बहुसंख्यक वर्ग द्वारा हो रहे पलायन पर कहा कि अभी लोकसभा चल रही है. मेरठ आते ही इस मामले को देखूंगा.. उन्होंने कहा कि पहले भी इस तरह की कुछ खबरें आती थी, प्रह्लादनगर मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र है. तीन तरफ से मुस्लिमों से घिरा हुआ है. पहले छोटी-मोटी घटनाओं की बात आती थी, लेकिन अब यह गंभीर स्थिति है. वीकेंड पर मैं मेरठ जाऊंगा. यह बड़ी चिंता की बात है. जो भी कार्रवाई होगी की जाएगी. कानून व्यवस्था से जुड़ा मामला है, इस मसले पर प्रदेश सरकार से बात करेंगे.

बालाकोट में पाकिस्तान की तबाही के सूत्रधार सामंत गोयल को मिली एक और बड़ी जिम्मेदारी

सांसद राजेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि यह समस्या बड़ी हो गई है, इसका समाधान निकाला जाएगा. लोकसभा में भी इस विषय को उठाएंगे. जो लोग अभी रह रहे हैं वे आशंकित ना हों. मैं स्वयं वहां पर जाऊंगा. मसला रात को मेरे संज्ञान में आया है और मैं सीएम योगी से बात करूंगा. उससे पहले वहां जाकर हालात का जायजा लूंगा. शिकायतकर्ता व भाजपा नेता भवेश मेहता ने बताया कि प्रह्लादनगर में उन्मादी लोग अराजकता फैला रहे हैं. उनका कहना है कि इसके कारण यहां से लोग पलायन कर रहे हैं. मेहता ने कहा कि इनके मकान खरीदने वाले अधिकांश लोग दूसरे संप्रदाय से जुड़े हैं. प्रधानमंत्री कार्यालय को भी इसकी जानकारी दी गई है.

कभी अवैध खनन और जातीय हिंसा के लिए चर्चित रहा सहारनपुर अब बदल गया है .. मिलिए इस बदलाव के सूत्रधार से

सुदर्शन द्वारा मामले को प्रमुखता से उताहाये जाने के बाद प्रशासन तो सक्रिय हुआ ही है, साथ ही मुख्यमंत्री कार्यालय भी सक्रिय हो गया है. मामले का का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डीजीपी ओपी सिंह और अलीगढ़ कमिश्नर को सख्त निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि मामले की तह तक जाकर उचित कार्रवाई करें. मुख्यमंत्री ने मेरठ के डीएम और एसएसपी को भी सख्त लहजे में कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. एसएसपी मेरठ नितिन तिवारी ने कहा कि पूरे प्रकरण की जांच कराई जा रही है. मुख्यमंत्री कार्यालय को रिपोर्ट भी जल्द दी जाएगी. मुख्यमंत्री कार्यालय से आए निर्देश के बाद प्रह्लाद नगर मंदिर के पास स्थाई पिकेट लगा दी गई है. एक दारोगा और दो सिपाहियों संग चेकिंग चलेगी. एंटी रोमियो स्क्वॉड भी समय-समय पर चेकिंग करेगा.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW