Breaking News:

इस बार NIA के छापे में पकड़े गये हैं आतंकपरस्त दो मौलवी… इलाका वही पश्चिमी उत्तर प्रदेश

पश्चिमी उत्तर प्रदेश इस्लामिक आतंकी संगठनों का नया ठिकाना बनता जा रहा है. पिछले दिनों राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने राजधानी दिल्ली समेत उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में छापेमरी कर आईएसआईएस आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश किया था. वहीं एक बार फिर एनआईए ने उत्तर प्रदेश के मेरठ तथा हापुड़ जनपद में छापा मारा तथा आतंक आतंक समर्थक दो मौलानाओं को गिरफ्तार किया. एक मौलाना को जहाँ मेरठ से गिरफ्तार किया गया तो वहीं दूसरा मौलाना हापुड़ से गिरफ्तार किया गया.

खबर के मुताबिक़, NIA ने आइएसआइएस के मॉड्यूल हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम से जुड़े केस में मेरठ  में छापेमारी की. NIA की टीम ने मेरठ के मुंडाली थाना क्षेत्र के जसोरा गांव के रहने वाले आरोपित मोहम्मद अबसर को गिरफ्तार किया है. मो. अबसर हापुड़ के एक मदरसे में पढ़ाता है। इस पर आतंकी साजिश रचने का आरोप है. एनआइए की ओर से जारी प्रेस रिलीज के अनुसार शुक्रवार देर शाम मो. अबसर (24 वर्ष) पुत्र सरफराज को गिरफ्तार किया गया. वह जामिया हुसैनिया अबुल हसन, पिपलेड़ा, हापुड़ में पढ़ाता है. मो. अबसर ने मई से अगस्त 2018 के बीच तीन बार जम्मू-कश्मीर का दौरा किया. उसके साथ आतंकी साजिश रचने का एक और आरोपित इफ्तेकार साकिब भी जम्मू-कश्मीर गया था.

इसके अलावा एनआईए की टीम ने हापुड़ धौलाना थाना क्षेत्र के ग्राम पिपलैड़ा में छापा मारा तथा मौलाना शहजाद को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. शहजाद गांव स्थित मस्जिद में बच्चों को पढ़ाता है. एनआईए की टीम ने 26 दिसंबर को भी सिंभावली थाना क्षेत्र के गांव वैट में छापा मारकर शाकिब को गिरफ्तार किया था। टेबलेट व अन्य सामग्री बरामद की थी, शाकिब पर आईएसआईएस के नए मॉड्यूल के मास्टरमाइंड अमरोहा निवासी मुफ्ती सुहैल को हथियार सप्लाई करने में मदद करने का आरोप है.

साथ ही शनिवार सुबह मो. अबसर को साथ लेकर मेरठ और हापुड़ में तीन जगह छापेमारी की गई. टीम पहले मेरठ के मुंडाली थाना क्षेत्र के जिसोरा गांव पहुंची. इसके बाद अजराड़ा में छापा मारा. सूत्रों के अनुसर यहां से मो. अबसर का मोबाइल और एक बैग बरामद किया गया है. छापेमारी के दौरान एनआइए के साथ भारी पुलिस बल मौजूद रहा. दूसरी तरफ, राधना निवासी नईम की गिरफ्तारी के बाद गांव के ही मतलूब और उसके भाई महबूब का नाम भी हथियार मुहैया कराने वालों में प्रकाश में आया था. सूचना है कि इन दोनों भाइयों ने भी पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है, जिन्हें एनआइए के हवाले कर दिया गया है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW