पीएम मोदी ने तीन तलाक से पीड़ित मुस्लिम महिलाओं को दिलाया भारोसा, कहा- सरकार और पार्टी उनके साथ है

भुवनेश्वर : ओडिशा के भुवनेश्वर में बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के समापन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी के नेताओं को कुछ जीत के मंत्र दिए। पीएम मोदी ने कहा कि संयम से काम करें और जीत से ज्यादा उत्साहित न हों। इसके साथ ही उन्होंने पार्टी के नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि नेता बड़बोलेपन से बचें और बयानबाजी न करें। अगर किसी को शिकायत है तो मुझ से बात करें।

विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि लगता है विपक्ष नए-नए मुद्दे फैक्ट्री में बनाता है। दिल्ली में चुनाव था तो चर्च पर हमले की बात उठाई। बिहार चुनाव में अवॉर्ड वापसी का मुद्दा चला। पता नहीं आज कल अवॉर्ड वापसी वाले कहां है और अब ईवीएम मशीन का मुद्दा। इसके साथ ही पीएम मोदी ने तीन तलाक के मुद्दे पर अपनी बात रखी।

प्रधानमंत्री मोदी ने मुस्लिम महिलाओं को भरोसा दिया कि सरकार और पार्टी उनके साथ है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक से मुस्लिम बहनें कष्ट में हैं। हमें इसका समाधान करना चाहिए। इसके लिए जिला स्तर पर काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि न्यू इंडिया के फ़ॉर्म्युले पर आगे बढ़ना चाहिए।

पीएम मोदी ने कार्यकारिणी की बैठक में मुसलमानों की बदहाली का भी मुद्दा उठाया। पार्टी को सलाह दी कि ‘पिछड़े मुसलमानों’ पर एक कॉन्फ्रेंस बुलानी चाहिए। पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिए जाने पर चर्चा के दौरान पीएम ने कहा कि मुसलमानों में कुछ वर्ग पिछड़े हुए हैं। उन्हें पिछड़े वर्गों पर होने वाली चर्चा में शामिल करना चाहिए।

Share This Post