मुस्लिम बहुत शहर में 2 अधिकारियों ने जताया अपनी जान का खतरा.. उस शहर में विधायक है जहरीले बोल वाला एक मुस्लिम नेता

वो अधिकारी जिनके ऊपर जिम्मेदारी है समाज को न्याय तथा सुरक्षा दिलाने की, वो खुद भय के माहौल में जी रहे हैं. मुस्लिम बाहुल्य शहर में तैनात इन दो अधिकारियों ने उस मुस्लिम नेता से अपनी जान का खतरा बताया है, जो अपने जहरीले तथा उन्मादी बयानों के लिए जाना जाता है तथा जो पूज्य भारतमाता को डायन तक कह चुका है.

खुद रोज़ा था यूनुस लेकिन लड़की को दिया कोल्डड्रिंक पीने को.. उसमें कुछ और मिला था जिसके बाद हुई दरिंदगी

ये दोनों अधिकारी उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में तैनात हैं. वो रामपुर जहाँ से लोकसभा चुनाव 2019 के रण में समाजवादी पार्टी की तरफ से आज़म खान तथा भारतीय जनता पार्टी की तरफ से जया प्रदा मैदान में हैं. रामपुर के अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) जगदम्बा प्रसाद एवं नगर मजिस्ट्रेट सर्वेश कुमार गुप्ता ने सपा नेता आजम खां से अपनी जान का खतरा बताया है. इसको लेकर उन्होंने मंडलायुक्त को पत्र भेजा है.

बंगाल में खून की होली खेलने वाले उन्मादियों को दबोच लिया CRPF ने… उन्होंने बताया कि उन्हें कौन देता था सपोर्ट ?

बता दें कि चुनाव की आचार संहिता लगने से पहले ही स्थानांतरित होकर रामपुर आए जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जगदम्बा प्रसाद गुप्ता, नगर मजिस्ट्रेट सर्वेश कुमार गुप्ता शुरुआत से ही सपा नेता आजम खां के निशाने पर रहे हैं. मंगलवार को अपर जिलाधिकारी प्रशासन जगदम्बा प्रसाद एवं नगर मजिस्ट्रेट सर्वेश कुमार गुप्ता ने मंडलायुक्त को पत्र भेजा, जिसकी प्रति पुलिस अधीक्षक शिव हरि मीना को भी भेजी है. दोनों ने कहा है कि उन्हें आजम से अपनी जान का खतरा है. उनके आवास एवं वाहनों के इर्द गिर्द संदिग्ध लोग देखे गए हैं.

16 मई – 2002 में कश्मीर को आतंक मुक्त करते हुए आज अमरता को प्राप्त हुए थे BSF के 2 योद्धा परवान सिंह और धरम सिंह.. नमन कीजिये अपने रक्षको को जो जिये सिर्फ हमारे लिए

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post