हफ्ते में एक दिन योगी सांसदों और विधायकों से करेंगे मुलाकात, लेंगे सबकी ‘क्लास’

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपना पद संभालने के साथ ही कई बड़े फैसले ले चुके हैं और लगातार कई बड़े फैसले ले भी रहे हैं। अब योगी आदित्यनाथ जनता के साथ ही साथ जनप्रतिनिधियों को भी किसी लाभ से वंचित नहीं रखना चाहते है। राज्य की स्थिति को और बेहतर के लिए योगी ने एक बड़ा फैसला किया है।

योगी अब हर शुकवार शाम 4 से 5 बजे तक सासंदों से और सोमवार व गुरुवार शाम 4 से 5 बजे तक वह विधायकों से मुलाकात करेंगे। यही नहीं, सीएम ने मुलाकात की जगह निर्धारित करते हुए आदेश दिया है कि लाल बहादुर शास्त्री भवन (सचिवालय एनेक्सी) में ही यह मुलाकात होगी।

बता दें कि जनता हर छोटी-छोटी परेशानियों को सीएम योगी तक पहुंचाने की होड़ में दिखाई दे रहे हैं और उसके लिए जन प्रतिनिधि लगातार लखनऊ के चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन हर किसी की समस्या सीएम योगी तक नहीं पहुंच पा रही है, जिसके समाधान के लिए अब सीएम योगी ने सांसदों और विधायकों से मिलने का समय और दिन निर्धारित कर दिया है।

इसके साथ ही क्षेत्रीय जनता से संपर्क के दौरान इन्हें कुछ ऐसे प्रार्थना-पत्र भी प्राप्त होते हैं, जिन पर शासन स्तर पर कार्रवाई अपेक्षित होती है। मुख्यमंत्री ने यह भी उल्लिखित किया कि जनता की समस्याओं के सम्यक एवं त्वरित निराकरण हेतु एवं इन जनप्रतिनिधयों के समय के सदुपयोग के दृष्टिगत भेंट की यह व्यवस्था करने का निर्णय लिया गया है।

उन्होंने भरोसा जताया कि इसके माध्यम से जनता की समस्याओं की ज्यादा से ज्यादा जानकारी प्राप्त हो सकेगी और उनके निराकरण के लिए सार्थक प्रयास किए जा सकेंगे। वहीं, सुत्रों कि माने तो योगी ने सांसदों और विधायकों से जनता और राज्य की समस्याओं को जानने के लिए ये भेंट शुरू की है। कहा जा रहा है कि इस बैठक में सीएम योगी सांसदों और विधायकों से हर तरह की समस्या जानेंगे और आगे की रणनीति पर चर्चा करेंगे।

Share This Post