देवभूमि हिमाचल में दानवी कुकृत्य. गौ वंश का कटा शीश सडक पर फेंका, रोहडू पुलिस की सतर्कता से बचा विवाद

अभी कुछ समय पहले ही हिमाचल प्रदेश की राजधानी श्मिला में अवैध्र रोहिंग्या होने की खबर ने पूरे देश का ध्यान अपनी तरफ खींचा था . बाद में पता चला कि जम्मू में अस्थाई रूप से बसे ये रोहिंग्या काम के लिए हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के लिए अस्थाई तौर पर लाये गये थे पर रोहिंग्या की उपस्थिति मात्र ही ख़ुफ़िया एजेंसियों के कान खड़े कर देने के लिए काफी थी . फिलहाल देवभूमि कहे जाने वाले हिमाचल प्रदेश में किसी ने दुस्साहस कर के दानवी कुकृत्य किया है जो न सिर्फ समाज की शांति को बल्कि सीधे सीधे कानून व्यवस्था को सीधे सीधे चुनौती माना जा रहा है .

विदित हो कि गौ वंश का कटा सिर मिलने की घटनाएँ पिछले कुछ समय से उत्तर प्रदेश के और राजस्थान के कुछ हिस्सों में हुई थी लेकिन अब ठीक वैसी ही घटना हुई है देवभूमि हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के पास . यहाँ पड़ने वाले रोहडू क्षेत्र जो अपनी शांति , सुन्दरता और धार्मिकता के लिए जाना जाता है , उसकी शांति पर किसी उत्पाती ने नजर लगाने की कोशिश की है . रोहडू क्षेत्र की पुलिस जो DSP अनिल शर्मा के नेतृत्व में पिछले कुछ समय से नशे के खिलाफ एक बड़ा अभियान चला कर पूरे भारत में शाबाशी पाई थी अब किसी उन्मादी द्वारा दी गयी नई चुनौती स्वीकार कर चुकी है और समाज की शांति के उस शत्रु को तलाश रही है .

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के रोहडू इलाके में बछड़े का कटा सिर मिलने से माहौल तनावपूर्ण हो गया था जिसके बाद सतर्क पुलिस बल फ़ौरन हरकत में आया और हालात को तत्काल नियंत्रण में लिया . ध्यान देने योग्य है कि जिस स्थान पर गौ वंश का यह कटा सिर मिला है, वह जगह मुख्य चौक से कुछ ही दूर है, जिसके चलते इसको उन्मादी की पुलिस को सीधी चुनौती माना जा रहा है . ये मामला आते ही कुछ लोगों ने तोड़फोड़ शुरू कर दी थी जिन्हें पुलिस ने समय रहते समझा कर व् हल्का बल प्रयोग कर के काबू में ले लिया था .  हालात सामान्य होने तक एहतियातन बाजार को बंद रखा गया था .

समाज की शांति को छिन्न भिन्न करने वाले दोषी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग के साथ उस बाज़ार में कुछ लोगों ने नारेबाजी भी की. SDM रोहडू बाबूराम शर्मा और DSP रोहडू अनिल शर्मा के नेतृत्व में प्रशासन हालात पर कड़ी नजर रखे हुए है और दोषी के खिलाफ सभी आवश्यक जांच की जा रही है. SDM रोहडू जी सी नेगी के नेतृत्व में सभी सम्प्रदाय के लोगों की बैठक हुई है जिसमे सबने शांति और सद्भाव बनाये रखने का संकल्प लिया है .. इस मामले में प्रशंसा की पात्र है रोहडू पुलिस जिसने समय रहते हालात को काबू में किया और सामाजिक सद्भाव बनाए रखने एक लिए सभी आवश्यक कदम भी सही समय पर उठाये .. लेकिन गौ वंश के कटे शीश उत्तर प्रदेश , राजस्थान के बाद अब हिमाचल में मिलना एक बड़ी राष्ट्रीय साजिश की तरफ इशारा कर रहे हैं जिसको बड़े परिदृश्य में पुलिस द्वारा देखे जाने और जांच किये जाने की जरूरत है .

 

Share This Post

Leave a Reply