केरल का कुकर्मी पादरी.. हॉस्टल में आने वाले बच्चों को बारी बारी बुलाता था अपने पास और हर रात लिखी जाती रही हवस की काली कहानी


वो ईसाई पादरी तथा बच्चों के स्कूल का डायरेक्टर था. सभी लोग उस पादरी का काफी सम्मान करते थे तथा उसको फादर कहते थे. लेकिन शायद वो लोग नहीं जानते थे कि पादरी के वेश में ये वो हैवान है, वो हवसी दरिंदा है जो उनके बच्चों के बचपन को अपनी हवस की भूख के पैरों तले रोज कुचल रहा है. दरअसल वो पादरी हॉस्टल में रहने वाले बच्चों को बारी बारी अपने पास बुलाता था तथा उनके साथ कुकर्म को अंजाम दिया करता था.

बंगाल में पकड़ा गया बांग्लादेशियों के लिए पकड़ा गया हथियार.. नकली सेक्यूलरिज्म एक नई दिशा दे रहा देश को

मामला केरल के कोच्चि का है जहाँ के एक बॉयज हॉस्टल में रहने वाले बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने और उनका शोषण करने के आरोप में रविवार को एक पादरी को गिरफ्तार किया गया है. आरोपी पादरी का नाम फ्रैंसिस जॉर्ज है. हैरान करने वाली बात यह है कि वह खुद उस बॉयज हॉस्टल का डायरेक्टर है. सेक्रेड हार्ट्स नामक बॉयज हॉस्टल के बच्चों की शिकायत पर जॉर्ज की गिरफ्तारी हुई है. पल्लुरूथी पुलिस थाने के एक अधिकारी ने मीडिया को बताया कि जॉर्ज उर्फ जेरी (40) को बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किया गया है.

राष्ट्रभक्तों के हीरो बने बिजनौर के साहसी और जांबाज़ पुलिस अधीक्षक IPS संजीव त्यागी जिनके निर्देश में पुलिस ने मदरसे में मारा छापा और बरामद किये हथियार

सात बच्चों के माता-पिता की शिकायत के अनुसार, पादरी काफी समय से बच्चों का यौन शोषण कर रहा था. पुलिस ने बताया कि पादरी की करतूतों का खुलासा बच्चों के सामने तब आया जब कुछ बच्चों ने आपस में इस बारे में चर्चा की. इसके बाद उन बच्चों ने तय किया कि सबसे पहले इस बात की जानकारी माता-पिता को दी जाएगी. इसके बाद बच्चों के माता-पिता बच्चों को लेकर पुलिस के पास पहुंचे और बच्चों ने सारी कहानी बयां की. बलात्कारी पादरी जॉर्ज के खिलाफ खिलाफ पोक्सो एक्ट के तहत आईपीसी की धारा 377, 7/8, 9डी में और जुवेनाइल जस्टिस एक्ट की धारा 75 के तहत केस दर्ज करते हुए पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...