अपनी करतूतों से बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, युद्ध करने पर कर रहा है मजबूर

जम्मू-कश्मीर और एलओसी पर पाकिस्तान की हरकतों का करारा जबाब देते हुए सेना ने 2 आतंकियों को मार गिराया है। पाकिस्तान आए दिन सीमा पर संघर्षविराम का उल्लघंन करता आया है और सीमा के एलओसी पर गोलीबारी करता रहता है। आपको बता दें कि गुरूवार को पाकिस्तान की तरफ से सीमा नियंत्रण रेखा पर राजौरी और पुंछ सेक्टर में भारतीय सेना की चौकियों पर भारी गोलीबारी की। जिसका जबाब देते हुए भारतीय सेना के जवानो ने 2 आतंकियों को मार गिराया।
जवाबी कारवाई में मारे गए आतंकी के पास से 2 एके-47, 107 जिंदा कारतूस और 2 हजार रुपये कैश बरामद हुए हैं। जम्मू-कश्मीर पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस के त्वरित अभियान में उन 2 आतंकवादियों की पहचान कर ली गई, जिन्होंने बुधवार को सोपोर में सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड फेंकने में मदद की थी, जिसमें चार पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। गौरतलब है कि सोपोर में बुधवार को पाकिस्तान की तरफ से पुलिस 
टीम पर आतंकी हमला करने वाले दोनों आतंकियों को मार गिराया। रक्षा विशेषज्ञों ने सेना के इस आक्रामक तेवर की सराहना करते हुऐ कहा की यह घाटी में आतंकवाद को खत्म करने के लिए कारगर साबित होगा। बता दें कि गुरूवार को श्रीनगर आर्मी चीफ बिपिन रावत ने भी सेना के आला अफसरों के साथ सीमा की वर्तमान स्थित का जायजा लिया और सेना की तारीफ करते हुए कहा कि सेना आतंकवाद को खत्म करना बखूबी जानती है और सेना अपना काम कर रही है।
गौरतलब है कि पाकिस्तानी सेना की तरफ से गुरूवार की सुबह राजौरी और पुंछ में भारतीय चौकियों पर मेर्टोर के गोले दागे। रक्षा प्रवक्ता ने कहा की पाकिस्तान सेना ने सुबह 7 बजे राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में एलओसी पर भारतीय सेना की चौकियों पर मेर्टोर के गोले से हमला किया। इसके बाद पाकिस्तानी सेना की तरफ से कृष्णाघाटी सेक्टर में सुबह 7.40 पर फायरिंग की। पाकिस्तानी सेना के गोलीबारी का जबाब भारतीय सेना लगातार दे रही है और गोलीबारी अभी जारी है। 
अपनी करतूतों से बाज नही आ रहा है पाकिस्तान
इससे पहले पाकिस्तान सेना ने 17 मई को राजौरी में संघर्षविराम की सीमा को पार करते हुए 15 और 16 को भी पाकिस्तानी सेना ने सीमा के रिहायशी इलाके में भी गोलीबारी की थी। जिससे सीमा के इलाकों में रहने वाले 12 हजार से अधिक लोग दहशत में थे। आपको बता दें कि 13 मई को भी पाकिस्तान द्वारा एलओसी के नौशेरा के रिहायशी इलाके में मेर्टोर के गोले दागे थे जिसमे 2 आम नागरिको की मौत भी हुई थी और 3 अन्य लोग धायल भी हुए थे।
   

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share