लोग नशा करते रहे इसलिए अपने असली रंग में आते हुए उस विधर्मी ने दी धमकी कि वो बम से उड़ा देगा उस प्रसिद्ध मंदिर को

फफूंद (यूपी) : अब धर्म के ठेकेदारों की तरह नशे के व्यापारी भी लोगों को आपस में भिड़वाने का कोई मौका नहीं छोड़ते। कभी जात-पात के विषय में तो कभी भगवान की आस्था को लेकर ये मुस्लिम नशे के कारोबारी हमेशा से ही लोगों में फुट डालते हैं। दरअसल, एक स्मैकिया किंग ने फफूंद के कस्बे में बसे गल्ला मंडी में स्थित शिव मंदिर को उड़ाने की धमकी दी है। वहां के रहने वालों को नशे करने वालों से काफी दिक्कत हो रही थी, जिसके बाद उन लोगों ने नशे करने वालों के खिलाफ एक्शन लेने की बात की तो उन लोगों ने शिव मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी। 
सूत्रों की माने तो, गल्ला मंडी में सुबह से ही लोगों की भीड़ जमा होने लगी थी। उन्हीं में से कुछ लोग वो थे जो मुस्लिम समुदाय के और नशे की दुकान चलाने वाले थे जिनको मंदिर की परिक्रमा से परेशानी है। मंदिर की परिक्रमा की वजह से उनके नशे की ज्यादा बिक्री नहीं होती है। जिसकी वजह से कुछ लोग इसे साम्प्रदायिक मोड़ देने की कोशिश करते हुए मंदिर को ही बम से उड़ने की धमकी दे डाली। जिसकी वजह से लोगो में आक्रोश बढ़ गया और दोनों पक्ष लड़ने लगे। 
बता दें कि, गल्ला मंडी में 100 साल पुराना शिव मंदिर बना हुआ है। जिसकी वजह से सुबह शाम वहां पूजा अर्चना होती रहती है। इसका असर उन नशेड़ियों की दुकानों पर पड़ता है। मंदिर के आसपास लोगों ने व्यापार फैला रखा है, जिनमे से कुछ किसान है तो कुछ मुस्लिम नशे के व्यापारी हैं। इन सभी व्यापारियों से नगर पंचायत हफ्ता वसूलती है। इसी का फायदा मुस्लिम नशे के व्यापारियों ने उठाते हुए सोमवार को दंगा फैलाने की बहुत कोशिश की। 
पर तभी जिलाध्यक्ष ने सही समय आकर दोनों पक्षों को सुना और दोनों समूह को समझौता करने को कहा। पुलिस ने कहा है की जो भी व्यक्ति इस दंगे को भड़काने का काम करेगा तो उसके खिलाफ सख्त करवाई की जाएगी। आपको बता दें कि ऐसे कई मुस्लिम समुदाय के लोग दंगा फैलाने के लिए अक्सर भड़काऊ भाषण देते रहते है। पर योगी राज में पुलिस के होते हुए ऐसे लोगो की कोशिशे धरी की धरी रह जाती है। 
Share This Post