धन्यवाद कीजिये पीलीभीत पुलिस का जिसने मदरसे में मारा है छापा.. कहीं मिले आतंकी, कहीं मिला हथियार.. अब मिला कुछ और ही


आपने ऐसी तमाम ख़बरें सुनी होंगी कि मजहबी दीनी तालीम के केंद्र कहे जाने वाले इस्लामिक मदरसों में छापेमारी के दौरान कहीं कोई आतंकी मिला तो कहीं मदरसों से भारी मात्रा में हथियार बरामद किये गये. लेकिन पीलीभीत के इस मदरसे में जो मिला है वो काफी हैरान करने वाला है. पीलीभीत के इस मदरसे में गोवंशों को काटा जा रहा था. जी हाँ, पीलीभीत के मदरसे में गौकशी की जाती थी. पीलीभीत पुलिस ने मदरसे में छापा मारकर गोवंशों के कटान का खुलासा किया है.

मदरसे में छापेमारी के दौरान पुलिस ने दो कसाइयों को उनके उपकरणों के साथ गिरफ्तार किया है. पुलिस ने मदरसा संचालक समेत तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है. जो लोग गिरफ्तार हुए हैं, उनके खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की जा रही है. जानकारी के मुताबिक, रविवार सुबह पीलीभीत जिले की कोतवाली पुलिस को अवैध कटान की सूचना मिली. जिसके बाद इंस्पेक्टर कोतवाली श्रीकांत द्विवेदी ने अपनी टीम के साथ तड़के ही शहर काजी के मोहल्ला भूरे खां स्थित मदरसे पर छापा मार दिया. छापेमारी के दौरान दो आरोपी पकड़े गये हैं.

पुलिस ने मौके से दो मृत पशुओं और पशु काटने के उपकरण बरामद किए. पूछताछ में आरोपियों ने अपना नाम मोहम्मद असलम पुत्र मोहम्मद यासीन और वसीम कुरैशी पुत्र इदरीश कुरैशी निवासी मोहल्ला भूरे खा बताया. दोनों ने प्रतिबंधित पशुओं की कटाई की बात कबूली है. इंस्पेक्टर ने बताया कि दोनों आरोपी समेत मदरसा संचालक मौलाना जरताब खां के खिलाफ केस दर्ज करके अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी गयी है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...