पुलिस क्राइमब्रांच को मिली बड़ी सफलता,फर्जी प्रमाण पत्र बनाने वाले गिरोह का हुआ भंडाफोड़ सात गिरफ्तार

चंदौली / उत्तर प्रदेश 

 

चंदौली जनपद के आरटीओ विभाग में भ्रष्टाचार का खेल जारी, *क्षेत्राधिकारी त्रिपुरारी पाण्डेय* व क्राइम ब्रांच ने फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गैंग का खुलासा करते हुए सात लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही पुलिस को गैंग के सदस्यों के पास से कई फर्जी रजिस्ट्रेशन पेपर, विभिन्न कंपनियों के इश्योरेंस पेपर, स्वास्थ्य विभाग की पर्ची, प्रदूषण प्रमाण पत्र मिला है।

यह देखने के बाद प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। पुलिस इस मामले में अन्य लोगों की तलाश में भी जुटी है। साथ ही पकड़े गए लोगों के जरिए पुलिस कनेक्शन निकालने की कोशिश कर रही है कि इनके तार किन-किन लोगों के साथ जुड़े हुए हैं। आपको बता दे की अभी पूर्व में भी आरटीओ कार्यालय चन्दौली काफी चर्चित रह चुका है, *पूर्व के आर.टी.ओ आर.एस. यादव काफी चर्चा में और भ्रष्टाचार में लिप्त थे जिसके कारण आज वह जेल में है।*

सूत्रों की माने तो अब यह कयास लगाया जा रहा है कि उसी नक्शे कदम पर चंदौली आरटीओ प्रशासन दिलीप कुमार गुप्ता भी चल रहे है। क्योंकि सम्बन्धित अधिकारियो के बिना संरक्षण के कार्यालय के पास बिना किसी डर के फर्जीवाड़ा नही हो सकता गिरफ्तार अभियुक्तो ने बताया कि संशोधित नये मोटर-वाहन अधिनियम के बाद वाहनों से संबंधित विभिन्न कागजात के लिए काफी संख्या में लोग उन्हें बनवाने के लिए आर.टी.ओ. कार्यालय आने लगे थे जिस पर हम सब के द्वारा लोगों से अधिक धन प्राप्त कर कंप्यूटर लैपटॉप नकली मोहर के माध्यम से फर्जी प्रमाण पत्र तैयार किया जाता था

*सुदर्शन न्यूज चैनल* ने पूर्व में भी आरटीओ आफिस में भ्रष्टाचार की खबर को चलाया था इसके बाद भ्रष्टाचार में लिप्त डा0 दिलिप कुमार गुप्ता के ऊपर कोई प्रभाव नहीं पडा़। इस सम्बंध में स्थानीय थाना में मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही की जा रही है।

 

वेब जर्नलिस्ट 

प्रशांत सिंह

9264915248

 

विडियो देखे 👇👇👇


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share