Breaking News:

गठबंधन की तरफ से लड़ता एक ऐसा प्रत्याशी जिसको तलाश रहीं पुलिस की तीन टीमें.. जबकि वो वादा कर रहे सुरक्षित समाज का

सपा-बसपा गठबंधन के ये प्रत्याशी समाज से वादा कर रहे हैं कि अगर उनको वोट देकर जिताया गया तो वह समाज को हरा तरह से सुरक्षा देंगे जबकि उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें दबिश दे रही हैं तथा वह गिरफ्तारी से बचने के लिए भागे भागे फिर रहे हैं. गठबंधन के इस प्रत्याशी पर बलात्कार का आरोप लगा है. अखिलेश यादव तथा मायावती अपने चुनावी कैंपेन में चिल्ला चिल्लाकर कह रहे हैं कि समाजवादी पार्टी तथा बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन महिला स्वाभिमान तथा महिला अस्मिता की रक्षा के लिए है लेकिन चुनाव से पहले ही उनके प्रत्याशियों के काले कारनामे सामने आने लगे हैं.

हम बात कर रहे हैं उत्तर प्रदेश की मऊ जिले की घोसी लोकसभा सीट से सपा-बसपा गठबंधन प्रत्याशी अतुल राय की जिनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज होने के बाद उनकी गिरफ्तारी के लिए सीओ भेलूपुर के नेतृत्व में तीन थानेदारों की टीमें गाजीपुर और मऊ जिले में छापेमारी कर रही हैं. वहीं, इंस्पेक्टर लंका के अनुरोध पर अदालत ने अतुल के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए हैं. पुलिस अतुल के करीबियों पर भी शिकंजा कसने की तैयारी में है.

मायावती तथा दुर्दांत अपराधी मुख़्तार अंसारी के करीबी अतुल राय के खिलाफ बुधवार रात लंका थाने में यूपी कॉलेज की पूर्व छात्रा की तहरीर पर दुष्कर्म सहित अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया था. पीड़िता का मेडिकल मुआयना कराने के साथ ही पुलिस अतुल की तलाश में जुटी है. गुरुवार से शुक्रवार देर शाम तक गाजीपुर और मऊ जिले में स्थित अतुल के कई ठिकानों पर पुलिस ने छापेमारी की, लेकिन उसका सुराग नहीं लगा. इंस्पेक्टर लंका ने बताया कि आरोपी की तलाश में पुलिस टीमें निरंतर छापेमारी कर रही हैं तथा आरोपी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होगा.

Share This Post