Breaking News:

पहले बोला 3 तलाक .. बीबी ने कहा कि नहीं मानेंगे … फिर बुलाया 10 साथियों को और …

हाल ही में मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं के हित में तीन तलाक को रोकने के लिए कुछ कड़े फैसले लिए थे जिसके चलते इस फैसले में कई मुस्लिम महिलाओं ने उनका समर्थन भी किया था। लेकिन समुदाय विशेष के परुषों को मुस्लिम महिलाओं का आवाज़ उठाना या अपने लिए कोई फैसला लेना रास नहीं आता है। ऐसा ही एक घिनौनी घटना सामने आई है जिसमें पति ने तीन तलाक के लिए मांग की लेकिन जब पत्नी ने इससे इंकार किया तो पति ने कुछ लोगों को बुलवा कर गैंग रेप जैसी घटना को अंजाम दिया। समुदाय विशेष ऐसा करके तीन तलाक के कोर्ट के फैसलेकि निंदा कर रहे है। समुदाय विशेष को बस महिलओं के खिलाड़ फतवे जारी करना आता है उनके अधिकारों के लिए लड़ना नहीं आता है।

तीन तलाक की ऐसी एक और घटना उत्तर प्रदेश के आगरा में सामने आई है। बता दें शायरा नाम की महिला के पति ने उससे तीन तलाक की मांग थी लेकिन उसने मना करना दिया जिसपर शायराका का पति आग बबूला हो गया जिसके बाद उसके पति ने पहले तो उसे पीटा फिर उसे कमरे में बंद कर दिया था। शायरा उस समय गर्भवती थी यह जानते हुए भी उसका पति ने अगले दिन 10 लड़को को बुला कर उसके साथ जबरदस्ती कर उसका गैंगरेप कर दिया। बता दें यह सिलसिला करीब 3 दिनों तक चलता रहा और शायरा का गर्भपात हो गया।
जब शायरा के साथ गैंग रेप को अंजाम दिया जा रहा था तभी उसकी चीक उसके घर के एक आदमी ने सुनली थी जिसके बाद उस व्यक्ति ने पुलिस को शिकायत दर्ज कराई। पुलिस शायरा को थाने ले कर गई थी जिसके बाद पुलिस उसने पूरी घटना की जानकारी दी वही पुलिस ने मामला जानने के बाद कड़ी कार्यवाही करने का भरोसा दिलाया जिसके बाद शायरा ने यह भी बताया कि अब मुख्यमंत्री से मिलने की कोशिश कर रही है लेकन अभी तक उसे मुलाकात का समय नहीं मिला है।
राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW