किस पर करें विश्वास ? प्रतापगढ़ के सरकारी स्कूल का प्रधानाचार्य निकला गद्दार.. CRPF बलिदानियों पर दिया ऐसा बयान

राजस्थान के प्रतापगढ़ का माहौल उस समय तनावग्रस्त हो गया जब जिले के हथुनिया थाना इलाके में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय, कुणी के प्रधानाचार्य मोहम्मद इकराम अजमेरी ने पुलवामा हमले में बलिदान हुए जवानों पर अनर्गल टिप्पणी कर दी. इसके बाद आक्रोशित लोगों ने प्रतापगढ़-मंदसौर रोड़ जाम कर दिया. जन आक्रोश को देखते हुए शिक्षा विभाग ने आरोपी प्रधानाचार्य को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया तथा उसके खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस कस्टेडी में ले लिया गया है.

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को पुलवामा आंतकी हमले में बलिदान हुए सीआरपीएफ के शहीदों को श्रद्धाजंलि देने के लिए छात्रों की ओर से श्रद्धाजंलि सभा करने की तैयारी की जा रही थी. लेकिन विद्यालय के प्रधानाचार्य मोहम्मद इकराम अजमेरी ने शहीदों पर अभद्र टिप्पणी करते हुए छात्रों को श्रद्धांजलि सभा नहीं करने दी. इससे आक्रोशित छात्रों और ग्रामीणों ने शनिवार को प्रतापगढ़-मंदसौर रोड़ जाम कर दिया और स्कूल के सामने प्रधानाचार्य के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. उनकी मांग थी कि प्रधानाचार्य को तत्काल निलंबित कर उसके खिलाफ मामला दर्ज किया जाए.

सूचना पर हथुनिया थाना पुलिस मौके पर पहुंची और प्राधानाचार्य को अपनी कस्टडी में ले लिया. पुलिस ने प्रर्दशनकारियों से जाम खोलने की समझाइश की, लेकिन आक्रोशित लोग प्रधानाचार्य के निलंबन की मांग पर अड़ रहे. इस पर जिला शिक्षा विभाग ने पूरे मामले से शिक्षा निदेशालय बीकानेर को अवगत कराया. शिक्षा निदेशालय ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल प्रभाव से प्रधानाचार्य मोहम्मद इकराम अजमेरी को निलंबित करने के आदेश जारी कर दिए. बाद में पुलिस ने प्रधानाचार्य के खिलाफ मामला भी दर्ज कर लिया. उसके बाद प्रदर्शनकारियों ने जाम खोला.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW